।। टीम इंडिया ने अपने दोनों वार्मअप मैच जीत लिए हैं पाकिस्तान को है हारने के डर ।।

टीम इंडिया ने अपने दोनों वार्मअप मैच जीत लिए हैं. जिससे उसका मनोबल सातवें आसमान पर है. अब 24 अक्टूबर को भारत का महामुकाबला पाकिस्तान से होगा जिस पर सारी दुनिया की निगाहें हैं. दोनों देश के दर्शक इस मैच को लेकर उत्साहित हैं. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर और पाकिस्तानी बैटिंग कोच मैथ्यू हैडन ने भारत के दो बल्लेबाजों को पाकिस्तान के लिए खतरा बताया है. आइए जानते हैं उन बल्लेबाजों के बारे में  

इन खिलाड़ियों से पाकिस्तान को खतरा 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर मैथ्यू हैडन ने कहा है कि ‘मैंने भारतीय क्रिकेट को बेहद करीब से फॉलो किया है. मैंने केएल राहुल को बेहतर होते देखा है. जो कि पाकिस्तान के लिए बहुत बड़ा खतरा हैं. मैंने उन्हें एक लड़के के तौर पर आगे बढ़ते हुए देखा है. मैंने उनका स्ट्रगल भी देखा है और टी20 फॉर्मेट में उसका दबदबा कायम है. मैंने ऋषभ पंत को भी देखा है, वह कैसे गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त कर सकता है. क्योंकि उन्हें मौका मिला है और वह चीजों को उसी तरह देखता है.’
केएल राहुल 

टीम इंडिया के ताबड़तोड़ ओपनर मौजूदा वर्ल्ड कप में धमाकेदार फॉर्म में है. उन्होंने दोनों वार्मअप मैच में शानदार पारियां खेली हैं जब वे अपनी लय में होते हैं तो किसी भी गेंदबाजी क्रम की बखिया उधेड़ सकते हैं. आईपीएल 2021 में उन्होंने 600 से ज्यादा रन ठोके थे. राहुल पारी की शुरुआत में बहुत ही आक्रामक खेल दिखाते हैं. 

ऋषभ पंत 

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से नाम कमाया है पंत एक हाथ से छक्के लगाने में बहुत ही माहिर हैं. जिसे देख दर्शक बहुत ही रोमांचित होते हैं. डेथ ओवरों में उन्हें रोकना आसान नहीं है जब वो अपनी लय में होते हैं तो गेंदबाजों की धुनाई करते उन्हें समय नहीं लगता है. विराट कोहली को पंत से पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी पारी की उम्मीद होगी. 

टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप कप्तान), केएल राहुल, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ईशान किशन (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, राहुल चाहर, रविचंद्रन अश्विन, शार्दुल ठाकुर, वरुण चक्रवर्ती, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी.

स्टैंडबाय: श्रेयस अय्यर, अक्षर पटेल और दीपक चाहर
कोच: रवि शास्त्री. 
मेंटर: एमएस धोनी.

रॉस टेलर ने इस वैश्विक टूर्नामेंट में पहली बार खेलने वाली टीम पापुआ न्यू गिनी का मेंटॉर बनने का फैसला किया

न्यूजीलैंड के बल्लेबाज रॉस टेलर (Ross Taylor) को टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup-2021) के लिए न्यूजीलैंड की 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया गया. इसके बाद वह अब एक नई भूमिका में नजर आएंगे. रॉस टेलर ने इस वैश्विक टूर्नामेंट में पहली बार खेलने वाली टीम पापुआ न्यू गिनी का मेंटॉर बनने का फैसला किया है. यूएई और ओमान की मेजबानी में आज यानी 17 अक्टूबर से इस टूर्नामेंट की शुरुआत हुई है.

।।पहली बार बीएड स्पेशल एजुकेशन डिग्रीधारी पहली से पांचवीं तक के शिक्षक बन सकेंगे। एनसीटीई ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी।।

पहली बार बीएड स्पेशल एजुकेशन डिग्रीधारी पहली से पांचवीं तक के शिक्षक बन सकेंगे। एनसीटीई ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। अब तक ऐसे डिग्री वालों को पहली से पांचवीं तक का शिक्षक बनने का मौका नहीं दिया जाता था। वहीं, इससे पहले एनसीटीई ने बीएड स्पेशल एजुकेशन डिग्रीधारियों को छठी से 8वीं कक्षा के शिक्षक बनने के लिए ही योग्य घोषित कर दिया था।

बीएड स्पेशल एजुकेशन की डिग्री भारतीय पुनर्वास परिषद (आरसीआई) से मान्यता प्राप्त होनी चाहिए। इसके लिए एनसीटीई से मान्यता हासिल करने की आवश्यकता नहीं है। पर एनसीटीई ने शर्त रखी है कि सरकारी स्कूल में नियुक्ति के छह महीने के भीतर ऐसे शिक्षकों को एनसीटीई द्वारा मान्यता प्राप्त संस्थान से छह महीने का कोर्स पूरा करना होगा। एनसीटीई के इस फैसले से अब राज्य के लगभग 80 हजार सरकारी स्कूलों में स्पेशल एजुकेटर्स को शिक्षक बनने का मौका मिलेगा। पटना विवि के सीनेट सदस्य डॉ. कुमार संजीव ने कहा कि बीएड स्पेशल एजुकेशन डिग्रीधारकों को भी शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने का मौका राज्य सरकार को देना चाहिए।

।।भारतीय संबैधानिक अधिकार संरक्षण मंच आया nios डीएलएड के साथ।।

।।भारतीय संबैधानिक अधिकार संरक्षण मंच आया nios डीएलएड के साथ 16 को किया एक दिवसीय उपहास।।

।। रामलीला में दशरथ बने किरदार को राम वियोग में पड़ा दिल का दौरा।।

उत्तर प्रदेश के बिजनौर में दूर दराज के एक इलाके में रामलीला में राजा दशरथ बने 62 वर्षीय कलाकार की हार्ट अटैक से मौत हो गई। अधिकारियों ने शनिवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि जिला मुख्यालय से लगभग 65 किमी दूर अफजलगढ़ के हसनपुर गांव में गुरुवार की रात को रामलीला मंचन के दौरान जब राम को वनवास के लिए भेजे जाने के दृश्य में राजा दशरथ बने 62 वर्षीय कलाकार राजेंद्र सिंह वियोग में राम-राम चिल्लाकर विलाप करने लगे। अधिकारियों ने बताया कि इसी दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह अचानक मंच पर गिर गए।

जोधा अकबर’ फेम ऐक्ट्रेस मनीषा यादव का निधन।।

‘जोधा अकबर’ फेम ऐक्ट्रेस मनीषा यादव का 1 अक्टूबर को निधन हो गया है। मनीषा यादव अपने पीछे अपना एक साल बेटा छोड़ गई हैं। हाल ही में उन्होंने बेटे का पहला जन्मदिन मनाया था।

उत्तर प्रदेश सरकार जल्द ही प्रदेश में 51 हजार से ज्यादा पदों पर शिक्षकों की भर्ती करने जा रही है.

UP Teacher Recruitment 2021: उत्तर प्रदेश सरकार जल्द ही प्रदेश में 51 हजार से ज्यादा पदों पर शिक्षकों की भर्ती करने जा रही है. इसके लिए प्रदेश के परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने 28 नवंबर 2021 को अध्यापक पात्रता परीक्षा (UP TET) कराने का प्रस्ताव उत्तर प्रदेश सरकार के पास भेजा है. खास बात यह है कि अभी रिक्त पदों की संख्या तय नहीं है जबकि राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर करके 51 हजार 112 पदों की जानकारी दी थी वहीं समग्र शिक्षा अभियान की वार्षिक कार्ययोजना के मुताबिक उत्तर प्रदेश में 73 हजार 711 शिक्षकों के पद खाली पड़े हैं.

मराठी फिल्म इंडस्ट्री की जानी मानी एक्ट्रेस ईश्वरी देशपांडे का कार एक्सीडेंट में निधन हो गया

मराठी फिल्म इंडस्ट्री की जानी मानी एक्ट्रेस ईश्वरी देशपांडे का कार एक्सीडेंट में निधन हो गया। रिपोर्ट के मुताबिक गोवा के बागा-कलंगुट में अभिनेत्री की कार हादसे के शिकार हो गई। इस दौरान कार में मौजूद उनके दोस्त शुभम देगडे की भी हादसे में मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक दोनों की मौत गहरे पानी में डूबने से हुई। पुलिस ने दोनों शव सोमवार को उत्तरी गोवा के अरपोरा इलाके में गहरे पानी में डूबी एक कार के अंदर से बरामद किया।  25 वर्षीय एक्ट्रेस और उनके दोस्त शुभम ( 28) की मौत पर गोवा पुलिस ने बताया कि जिस कार से वे जा रहे थे वह तेज रफ्तार में थी और अनियंत्रित होकर पानी में गिर गई। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि कार कौन चला रहा था। सेंट्रल लॉक बंद होने के कारण दोनों कार से बाहर नहीं निकल सके।

प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति की अंतिम तिथि नहीं बढ़ाने पर शिक्षा सचिव राधिका झा को हाईकोर्ट ने तलब किया

प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति की अंतिम तिथि नहीं बढ़ाने पर शिक्षा सचिव राधिका झा को हाईकोर्ट ने तलब किया है. कोर्ट ने 22 सितंबर को शिक्षा सचिव को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित होने को कहा है.

।।Nios डीएलएड की वैधता को लेकर बिहार का 2019 का लेटर हो रहा है वायरल ।।

जानकारी के लिए बता दे कि उत्तराखंड में prt के 2600 पदों पर सहायक अध्यापकों की भर्ती होनी है जिसके मुख्य भगीदार डाइट डीएलएड nios डीएलएड ओर बीएड है । कुछ लोगो ।।Nios डीएलएड की वैधता को लेकर बिहार का 2019 का लेटर को वायरल कर रहे है ।

।।अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के स्टार लेग स्पिनर राशिद खान ने कप्तानी के पद दिया इस्तीफा।।

अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के स्टार लेग स्पिनर राशिद खान ने कप्तानी के पद से इस्तीफा दे दिया है। कप्तानी से इस्तीफा देते हुए राशिद खान ने कहा कि आगामी टी 20 विश्व कप के लिए राष्ट्रीय टीम को अंतिम रूप देने से पहले उनकी राय नहीं मांगी गई थी। हाल ही में अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने टी-20 वर्ल्ड कप के लिए टीम का ऐलान किया था और राशिद खान को कप्तान बनाया था। जबकि अनुभवी विकेटकीपर मोहम्मद शहजाद को भी अगले महीने से शुरू होने वाले बड़े इवेंट के लिए 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया।

।।गढ़वाल राइफल का वीर सपूत शहीद, बुराशी गांव में शोक की लहर।।

उत्तराखंड के वीर सपूतों ने हर बार आगे बढ़कर देश की सेवा में अपने प्राण तक न्यौछावर कर दिए। याद रहे…अगर ये वीर सपूत हैं, तभी हम अपने घरों में चैन की नींद सो रहे हैं। इस बीच एक दुखद खबर सामने आई है। उत्तराखण्ड का एक और जवान देश के लिए शहीद हो गया है। इस बात की जानकारी कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत ने अपने फेसबुक पेज के माध्यम से दी है। पौड़ी गढ़वाल के पाबो ब्लॉक के बुराशी गांव के निवासी मनदीप सिंह नेगी गढ़वाल राइफल में तैनात थे। उनकी शहादत की खबर से पूरा गांव स्तब्ध है। कैबिनेट मंत्री डॉक्टर धन सिंह रावत ने अपने सोशल मीडिया पेज पर जानकारी देते हुए लिखा कि मनदीप सिंह नेगी की शहीद होने की दुःखद खबर मिली, ये खबर सुनकर बेहद आघात पहुंचा। उन्होंने आगे लिखा है कि ‘भारत मां के लाडले मनदीप सिंह नेगी को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं, ईश्वर परिवारजनों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें’। बताया जा रहा है कि मनदीप सिंह नेगी के 2 बड़े भाई व 1 बहन हैं। मनदीप अपने घर मे सबसे छोटे थे। उनका मेरठ में तैनात होना भी बताया जा रहा है। जिसकी अभी पुष्टि नहीं हो पाई है।

।।अभिनेता अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की मां अरुणा भाटिया  (Aruna Bhatia) का निधन।।

अभिनेता अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की मां अरुणा भाटिया  (Aruna Bhatia) का निधन हो गया है। अक्षय ने बुधवार की सुबह ट्वीट कर इस दुखद खबर की जानकारी दी है। बता दें, अक्षय की मां अरुणा भाटिया लंबे समय से बीमार थीं और मुंबई के हीरानंदानी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती थीं। सोशल मीडिया पर सितारे और फैंस अक्षय की मां को श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

।।उत्तराखंड बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (UBSE) ने Uttarakhand Teacher Eligibility Test (UTET) 2021 के लिए नोटिफिकेशन जारी।।

उत्तराखंड बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (UBSE) ने Uttarakhand Teacher Eligibility Test (UTET) 2021 के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। ‌उत्तराखंड में शिक्षक पद पर भर्ती के लिए इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट ukutet.com के माध्यम से 30 सितंबर तक या उससे पहले परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यह परीक्षा उत्तराखंड के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर 26 नवंबर को आयोजित की जाएगी।

बता दें कि इस परीक्षा में दो पेपर होता है। पहला पेपर कक्षा 1 से कक्षा 5 तक और दूसरा पेपर कक्षा 6 से कक्षा 8 तक के शिक्षक पदों पर भर्ती के लिए आयोजित किया जाता है। जो उम्मीदवार कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के छात्रों को पढ़ाना चाहते हैं, उन्हें दोनों पेपर के लिए उपस्थित होना होता है। योग्यता की बात करें तो प्राइमरी लेवल के लिए उम्मीदवार न्यूनतम 50% अंकों के साथ कक्षा 12वीं पास होना चाहिए। इसके अलावा प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में दो साल का डिप्लोमा होना चाहिए। जबकि, जूनियर लेवल के लिए उम्मीदवार के पास बैचलर्स डिग्री और प्रारंभिक शिक्षा में दो साल का डिप्लोमा होना चाहिए। विस्तृत जानकारी के लिए उम्मीदवार आधिकारिक नोटिफिकेशन चेक कर सकते हैं।

।।मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भवानीपुर विधानसभा सीट से अपनी दावेदारी पेश करेंगी।।

पश्चिम बंगाल में उपचुनाव के एलान के बाद सियासी हलचल तेज हो गई है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भवानीपुर विधानसभा सीट से अपनी दावेदारी पेश करेंगी। मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बने रहने के लिए ममता को उप-चुनाव में हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। अन्य सीटों में टीएमसी उम्मीदवार जाकिर हुसैन जंगीपुर और अमिरुल इस्लाम समसेरपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।

राज्य की तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव 30 सितंबर को होने हैं। इस बीच टीएमसी नेता मदन मित्रा ने कहा कि भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव में अपने उम्मीदवार उतारकर भाजपा अपना पैसा बर्बाद न करें। यह चुनाव पूरी तरह एकतरफा होगा।

टीवी की दुनिया के जाने माने अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला की मौत

बॉलीवुड जगत से बहुत ही दुखद खबर है. टीवी की दुनिया के जाने माने अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला की मौत हो गई है. सिद्धार्थ शुक्ला की उम्र 40 साल थी. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक हार्ट अटैक से उनकी मौत हुई है.

।। कोर्ट ने भर्ती प्रक्रिया पर लगी रोक को हटाते हुए सरकार को अभ्यर्थियो को नियुक्ति प्रकिया में सम्मिलित करते हुए भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ करने के निर्देश सरकार को दिए हैं।।

हाई कोर्ट ने  सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया के मामले पर सुनवाई की। कोर्ट ने भर्ती प्रक्रिया पर लगी रोक को हटाते हुए सरकार को अभ्यर्थियो को नियुक्ति प्रकिया में सम्मिलित करते हुए भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ करने के निर्देश सरकार को दिए हैं। ये नियुक्तियां कोर्ट के आदेश के अधीन रहेंगी। कोर्ट ने राज्य सरकार से  यह भी कहा है कि इनकी नियुक्ति 2012 की नियमावली व शिक्षा का अधिकार अधिनियम  की सुसंगत धाराओं के तहत करें। कोर्ट के फैसले के बाद राज्य में 2600 बेसिक शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है।

 बुधवार को वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी व न्यायमुर्ति आलोक कुमार वर्मा की खण्डपीठ में जितेंद्र सिंह व अन्य की याचिका पर सुनवाई हुई। याचिका में कहा गया है कि राज्य सरकार के 10 फरवरी 2021 को शासनादेश जारी किया था। याचिकर्ताओं के अनु 6 वह 2019 में एन आई ओ एस के दूरस्थ शिक्षा माध्यम से डी एल एड प्रशिक्षण प्राप्त हैं किंतु राज्य सरकार ने उक्त माध्यम से प्रशिक्षितों को सहायक अध्यापक प्राथमिक की नियुक्ति प्रक्रिया से बाहर कर दिया।

केंद्र सरकार ने 16 दिसम्बर 2020 व राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने 6 जनवरी 2021 को जारी आदेशों में एन आई ओ एस की दूरस्थ शिक्षा पद्धति से डीएलएड प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों को अन्य माध्यमों से प्रशिक्षित अभ्यर्थियों के समान माना है। इस प्रकार राज्य सरकार केंद्र सरकार के विरोधाभासी आदेश नहीं कर सकती। इन तर्कों के आधार पर पूर्व में  कोर्ट ने राज्य सरकार के उक्त शासनादेश पर रोक लगाते हुए इन अभ्यर्थियों को भी सहायक अध्यापक प्राथमिक शिक्षा की भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने को कहा था।  सरकार ने सहायक अधयापक भर्ती के 2600 पदों हेतु  दिसम्बर 2018  को विज्ञप्ति जारी  की थी ।

।। REET 2021 : राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा ( रीट ) दे रहीं महिला अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी।।

REET 2021 : राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा ( रीट ) दे रहीं महिला अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी है। राजस्थान बोर्ड कोशिश कर रहा है कि महिला अभ्यर्थियों को परीक्षा केंद्र उनके गृह जिले में ही आवंटित किए जाएं। बोर्ड की प्राथमिकता है कि परीक्षा देने के लिए महिला अभ्यर्थियों को अन्य जिलों में न जाने पड़े। हालांकि कई सीमावर्ती जिलों में परीक्षा केंद्रों की संख्या मांग के हिसाब से कम बताई जा रही है क्योंकि अन्य राज्यों के अभ्यर्थियों ने वरीयता में यहां अपना परीक्षा केंद्र चुना है। ऐसे में इन जिलों में हो सकता है कि महिला अभ्यर्थियों के परीक्षा केंद्र आसपास के जिलों में आवंटित कर दिए जाएं। 

रीट का आयोजन 26 सितंबर को होगा। परीक्षा प्रदेश के सभी जिलों में 4200 केंद्रों पर आयोजित होगी।  रीट के लिए साढ़े 16 लाख से ज्यादा आवेदन आए हैं। 

।।उत्तराखंड: गहरी खाई में गिरी बाइक 19 वर्षीय युवक की मौत।।

पिथौरागढ़ में रक्षाबंधन के ठीक एक हफ्ते बाद हुए सड़क हादसे में एक बहन ने अपने भाई को खो दिया। यहां बेकाबू बाइक गहरी खाई में गिर गई। हादसे में बाइक चला रहे भाई की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि युवक की बड़ी बहन गंभीर रूप से घायल है। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे के बाद से मृतक युवक के घर में कोहराम मचा है। माता-पिता रो-रोकर बेसुध हो गए हैं। हादसे में मारे गए युवक की पहचान 19 साल के करण सिंह पुत्र मोहन सिंह के रूप में हुई। करण बटकातोली चोनाला में अपने परिवार के साथ रहता था। वो 12वीं का छात्र था। जबकि उसकी 21 वर्षीय बड़ी बहन भावना बीए में पढ़ती है। करण और भावना गंगोलीहाट में अपने मामा के घर पर रहकर पढ़ाई जारी रखे हुए थे। रविवार को छुट्टी होने की वजह से दोनों ने अपने माता-पिता से मिलने का प्लान बनाया।

।।रुद्रप्रयाग से श्रीनगर जा रहे बाइकसवार सम्राट होटल के नजदीक दुर्घटना का शिकार।।

रुद्रप्रयाग से श्रीनगर जा रहे बाइकसवार सम्राट होटल के नजदीक दुर्घटना का शिकार हो गए। दरअसल सम्राट होटल के समीप बाइक अनियंत्रित हो गयी औऱ दो युवक गहरी खाई में गिर गए।

सूचना पर एसडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंचकर उनका रेस्क्यू किया और घायल युवकों को श्रीनगर बेस अस्पताल पहुंचाया जहाँ दोनों का इलाज चल रहा है।

BJP के दिग्गज नेता कल्याण सिंह का निधन


लंबे समय से बीमार चल रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के राज्यपाल रहे कल्याण सिंह का शनिवार को निधन हो गया। बीते दो दिनों से कल्याण सिंह की तबीयत काफी नाजुक बनी हुई थी। अलग-अलग विभागों के विभागाध्यक्ष लगातार उनकी निगरानी रख रहे थे। अस्पताल में पूर्व मुख्यमंत्री के परिवारजन भी मौजूद थे। कल्याण सिंह के इलाज में दिल, गुर्दा, डायबिटीज, न्यूरो, यूरो, गैस्ट्रो और क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग समेत 12 विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम लगातार निगरानी में लगी हुई थी।

।।उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय (यूओयू) सत्र 2020-21 की वार्षिक परिक्षाएं आठ सितंबर से शुरू।।

उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय (यूओयू) सत्र 2020-21 की वार्षिक परिक्षाएं आठ सितंबर से कराएगा। इसके लिए राज्य में 40 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। 
परीक्षा की तैयारियों को लेकर गुरुवार को कुलपति प्रो. ओपीएस नेगी ने परीक्षा विभाग की बैठक ली। जिसके बाद वार्षिक परीक्षा की समय सारणी जारी की गई। परीक्षार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट से समय सारणी प्राप्त कर सकते हैं। परीक्षाएं 8 से 29 सितंबर तक चलेंगी। परीक्षा की तिथि से एक सप्ताह पूर्व परीक्षार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट से प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकेंगे। परीक्षा नियंत्रक प्रो. पीडी पंत ने बताया कि परीक्षाएं ओएमआर शीट पर कराई जाएंगी। जिसमें पीजी डिप्लोमा, स्नातक-स्नातकोत्तर कार्यक्रमों के अंतिम सेमेस्टर व अंतिम वर्ष के परीक्षार्थी ही भाग लेंगे। स्नातक स्तर पर प्रत्येक विषयों के दो -दो प्रश्नपत्रों की परीक्षाएं एक साथ कराई जाएंगी। एक प्रश्नपत्र 2 घंटे का होगा।

।।तालिबान ने अफगानिस्तान पर अपना नियंत्रण बनाने के साथ ही भारत के साथ व्यापार रोक लगाई।।

तालिबान ने अफगानिस्तान पर अपना नियंत्रण बनाने के साथ ही भारत के साथ व्यापार रोक दिया है. अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जा होइलयबने के साथ ही अब उसके साथ पड़ोसी या अन्य देशों का संबंध भी बदलने लगा है. भारत और अफगानिस्तान गहरे दोस्त रहे हैं, लेकिन तालिबान ने सत्ता पर काबिज होते ही भारत के साथ आयात और निर्यात दोनों ही बंद कर दिया है.

।।अमरुल्ला सालेह यहीं से बना रहे तालिबान के खिलाफ रणनीति।।

काबुल पर कब्जे के बाद तालिबान ने अफगानिस्तान के ज्यादातर हिस्सों पर भले कब्जा कर लिया हो लेकिन एक प्रांत अबतक उसकी पहुंच से दूर है और डटकर सामना करने को तैयार भी है. काबुल से सिर्फ 100 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है पंजशीर प्रांत (Panjshir province). इसका अनुवाद करें तो मतलब होगा ‘फारस के पांच शेर’. पंजशीर प्रांत पर अबतक कोई भी कब्जा नहीं कर पाया है और यह लम्बे वक्त से आजाद क्षेत्र बना हुआ है.

पंजशीर प्रांत का घाटी वाला इलाका देखने में बहुत मनमोहक है. यह अफगानिस्तान के 34 प्रांतों में से एक है, जिसमें 7 जिले हैं, जिनमें 512 गांव मौजूद हैं. 2021 के आंकड़ों के मुताबिक, पंजशीर की जनसंख्या 173,000 के करीब है. इसकी प्रांतीय राजधानी बाजारक है.

अमरुल्ला सालेह यहीं से बना रहे तालिबान के खिलाफ रणनीति

इसी प्रांत में ही अमरुल्ला सालेह (अफगानिस्तान के पूर्व उप राष्ट्रपति) मौजूद हैं. यहीं से उन्होंने दावा किया कि वह अशरफ गनी के भागने के बाद अफगान के केयर टेकर प्रेसिडेंट हैं. उन्होंने पहले भी कहा था कि वह तालिबान के आगे झुकेंगे नहीं.

अमरुल्ला सालेह (Amrullah Saleh) की कुछ तस्वीरें भी इन दिनों इंटरनेट पर घूम रही हैं. इसमें वह अहमद मसूद के साथ दिख रहे हैं. वह तालिबान विद्रोही लीडर अहमद शाह मसूद के बेटे हैं. दावा किया जा रहा है कि अफगान फोर्स के सिपाही मसूद के बुलावे पर पंजशीर में जुट रहे हैं. अहमद शाह मसूद को 9/11 हमले के पहले अल कायदा और तालिबान ने साजिश रचकर मार दिया था. 

इंडियन आइडल के इस सीजन के सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहने वाले कंटेस्टेंट हैं पवनदीप राजन और अरुणिता कांजीलाल

इंडियन आइडल के इस सीजन के सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहने वाले कंटेस्टेंट हैं पवनदीप राजन और अरुणिता कांजीलाल. दोनों की जोड़ी को दर्शकों ने भी खूब पंसद किया है. यहां तक की जब भी दोनों साथ में परफॉर्म करते हैं तो दर्शकों का दिन बन जाता है.

शो में कई बार आदित्य नारायण दोनों के साथ मस्ती करते रहते हैं. अब फिनाले में पवनदीप ने कुछ ऐसा किया कि सभी चौंक गए. दरअसल, भारती सिंह औरउनके पति हर्ष शो में आते हैं. हर्ष कहते हैं, आपने सुना होगा एक फूल 2 माली, लेकिन यहां एक ही फूल है और एक ही माली. दरअसल, ये एक फूल एक माली अवॉर्ड है जो उस शख्स को देंगे जिसने हर लड़को फूल दिया है.

उत्तराखंड में 16 अगस्त से खुलेंगे 6 से 8वीं तक के स्कूल

Image: Schools will open up to class 8 in Uttarakhand from August 16
उत्तराखंड में 16 अगस्त से खुलेंगे 6 से 8वीं तक के स्कूल

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच उत्तराखंड में 16 अगस्त से खुलेंगे 6 से 8वीं तक के स्कूल उत्तराखंड में स्कूलों का संचालन होने जा रहा है। प्रदेश में कक्षा 9 से कक्षा 12 तक के छात्र स्कूल जाने लगे हैं। अब दूसरे चरण में जूनियर स्कूलों को खोलने की तैयारी है। 16 अगस्त से जूनियर हाईस्कूल में कक्षाओं का संचालन शुरू हो जाएगा। कक्षा छह से लेकर 8वीं में पढ़ने वाले बच्चों को स्कूल में एंट्री दी जाएगी। बच्चों की सुरक्षा सरकार के लिए पहली प्राथमिकता है, इसलिए स्कूलों में सुरक्षा से जुड़े सभी इंतजाम पुख्ता किए जा रहे हैं। प्रदेश के 4100 जूनियर हाईस्कूलों में सरकार की ओर से सैनेटाइजर, मास्क आदि मुहैया कराए जाएंगे। छठी से आठवीं स्तर के 5234 स्कूलों में से 4156 के लिए सरकार ने विशेष कोविड बजट जारी किया है। इन स्कूलों की भोजनमाताओं के लिए एप्रेन, हेड कवर और दस्ताने भी दिए जाएंगे। एसपीडी बंशीधर तिवारी ने इसके आदेश जारी किए। स्कूलों को छात्र संख्या के अनुसार 400 से एक हजार रुपये की विशेष ग्रांट दी गई है। आपको बता दें कि राज्य में 16 से 25 छात्र संख्या के 961 स्कूल हैं। जबकि 1549 स्कूलों में 26 से 50 छात्र संख्या है। इसी तरह 51 से 100 छात्र संख्या वाले स्कूलों की संख्या 1076 है

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इस साल अक्टूबर में रोम में आयोजित होने जा रहे अंतरराष्ट्रीय शांति सम्मेलन में किया गया आमंत्रित

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इस साल अक्टूबर में रोम में आयोजित होने जा रहे अंतरराष्ट्रीय शांति सम्मेलन में आमंत्रित किया गया है। 6 और 7 अक्टूबर को संभावित इस सम्मेलन में पोप फ्रांसिस और जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल जैसी हस्तियां भी शामिल होंगी। ममता बनर्जी को दुनिया को शांति का संदेश देने के लिए ऐसे समय पर आमंत्रित किया गया जब उनकी सरकार पर राजनीतिक हिंसा के आरोप लग रहे हैं।

”पीपल्स एज ब्रदर्स, फ्यूचर अर्थ” शीर्षक वाले इस शामित सम्मेलन का आमंत्रण मुख्यमंत्री को रोम के कैथोलिक असोसिएशन सेंट इगिडिओ समुदाय के प्रमुख माक्रो इमपागलिओजो ने भेजा है। आमंत्रण में तृणमूल कांग्रेस की चीफ को हाल में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में शानदार जीत की बधाई दी गई है तो यह भी कहा गया है कि उन्होंने सामाजिक न्याय के लिए महत्वपूर्ण काम किया है और एक दशक से शांति के लिए काम कर रही हैं। 

UGC NET New Notification: विश्वविद्यालय अनुदान परिषद (University Grant Commission) ने UGC NET का एक जरूरी नोटिफिकेशन छात्रों के लिए बड़ी राहत लेकर आया

UGC NET New Notification: विश्वविद्यालय अनुदान परिषद (University Grant Commission) ने UGC NET का एक जरूरी नोटिफिकेशन छात्रों के लिए बड़ी राहत लेकर आया है. इस नोटिफिकेशन में उन छात्रों को, जिन्होंने नेट या जेआरएफ (NET or JRF) परीक्षा पास कर ली है, लेकिन कोविड-19 की वजह से मास्टर्स डिग्री पूरी नहीं कर पाए हैं, उन्हें अतिरिक्त समय दिया गया है. यह खुशखबरी उन छात्रों के लिए है, जो पहले ही दिसंबर 2018 या 2019 में UGC NET क्लीयर कर चुके हैं. या फिर JRF के लिए क्वालीफाई हो चुके हैं. मगर कोरोना वायरस के चलते मास्टर डिग्री हासिल नहीं कर पाए हैं.

UGC की नोटिफिकेशन के अनुसार दिसंबर 2018 में यूजीसी नेट/ Joint CSIR UGC NET टेस्ट क्वालीफाई कर चुके हैं, उन्हें 30 जून, 2022 तक का समय दिया गया है. इसी तरह जून, 2019 में यह टेस्ट पास करने वाले उम्मीदवारों को 31 दिसंबर, 2022 तक का अतिरिक्त समय दिया गया है.

।।भारत के अभी तक के ओलंपिक पदक।।

भारत के ओलंपिक पदक विजेताएथलीटमेडलइवेंटओलंपिकनॉर्मन प्रिचर्डसिल्वरमेंस 200मीपेरिस 1900नॉर्मन प्रिचर्डसिल्वरमेंस 200मी हर्डल्सपेरिस 1900भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीएम्स्टर्डम 1928भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीलॉस एंजिल्स 1932भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीबर्लिस 1936भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीलंदन 1948भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकी
हेल्सिंकी 1952भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीमेलबर्न 1956केडी जाधवब्रॉन्जमेंस बेंटमवेट रेसलिंगहेल्सिंकी 1952भारतीय हॉकी टीम
सिल्वरमेंस हॉकीरोम 1960भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीटोक्यो 1964भारतीय हॉकी टीम
ब्रॉन्जमेंस हॉकीमेक्सिको सिटी 1968भारतीय हॉकी टीम
ब्रॉन्जमेंस हॉकीम्यूनिख 1972भारतीय हॉकी टीम
गोल्डमेंस हॉकीमास्को 1980लिएंडर पेसब्रॉन्जमेंस सिंगल्स टेनिसअटलांटा 1996कर्णम मल्लेश्वरीब्रॉन्ज
वूमेंस 54किग्रा वेटलिफ्टिंगसिडनी 2000राज्यवर्धन सिंह राठौड़
सिल्वरमेंस डबल ट्रैप शूटिंगएथेंस 2004अभिनव बिंद्रागोल्डमेंस 10मी एयर राइफल शूटिंगबीजिंग 2008विजेंदर सिंहब्रॉन्जमेंस मिडिलवेट बॉक्सिंगबीजिंग 2008सुशील कुमारब्रॉन्जमेंस 66किग्रा रेसलिंगबीजिंग 2008सुशील कुमारसिल्वरमेंस 66किग्रा रेसलिंगलंदन 2012विजय कुमारसिल्वरमेंस 25मी रैपिड पिस्टल शूटिंगलंदन 2012साइना नेहवालब्रॉन्जवूमेंस सिंगल्स बैडमिंटरलंदन 2012मैरी कॉमब्रॉन्जवूमेंस फ्लाइवेट बॉक्सिंगलंदन 2012योगेश्वर दत्तब्रॉन्जमेंस 60किग्रा रेसलिंगलंदन 2012गगन नारंगब्रॉन्जमेंस 10मी एयर राइफल शूटिंगलंदन 2012
पीवी सिंधुसिल्वरवूमेंस सिंगल्स बैडमिंटनरियो 2016साक्षी मलिकब्रॉन्जवूमेंस 58किग्रा रेसलिंगरियो 2016मीराबाई चानूसिल्वरवूमेंस 49 किग्रा वेटलिफ्टिंगटोक्यो 2020लवलीना बोरगोहेनब्रॉन्ज़वूमेंस वेल्टरवेट (64-69 किग्रा)टोक्यो 2020पीवी सिंधुब्रॉन्ज़वूमेंस सिंगल्स बैडमिंटनटोक्यो 2020रवि कुमार दहियासिल्वरमेंस फ्रीस्टाइल 57 किग्राटोक्यो 2020भारतीय हॉकी टीमब्रॉन्ज़मेंस हॉकीटोक्यो 2020बजरंग पुनियाब्रॉन्ज़मेंस 65 किग्रा रेसलिंगटोक्यो 2020नीरज चोपड़ागोल्डमेंस जेवलिन थ्रोटोक्यो 2020null

Source internet

।। शिक्षा सचिव राधिका झा ने प्रदेश में आफलाइन और आनलाइन संचालित किए जा रहे स्कूलों का ब्योरा मांगा ।।

शिक्षा सचिव राधिका झा ने प्रदेश में आफलाइन और आनलाइन संचालित किए जा रहे स्कूलों का ब्योरा माध्यमिक और प्रारंभिक शिक्षा निदेशकों से तलब किया है। मुफ्त पाठ्यपुस्तक योजना में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) से लाभान्वित होने वाले छात्र-छात्राओं के बारे में भी जानकारी मांगी गई है।

शिक्षा सचिव ने बीती दो अगस्त को स्कूल खोलने के बाद कोविड-19 प्रोटोकाल के मद्देनजर सात बिंदुओं पर दोनों शिक्षा निदेशकों को अपडेट जानकारी देने के निर्देश दिए हैं। स्कूलों में शिक्षकों और स्टाफ के टीकाकरण पर सरकार जोर दे रही है। अब शासन ने विभाग से टीकाकरण करा चुके और वंचित शिक्षकों व कर्मचारियों के बारे में विस्तृत सूचना मांगी है। निदेशालयों को शिक्षकों की उपस्थिति के बारे में भी शासन को बताना होगा।

कोरोना संकट की वजह से प्रदेश में स्कूल लंबे समय तक बंद रहे हैं। बीते माह से शिक्षकों को स्कूल आने के निर्देश दिए जा चुके हैं। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना अटल उत्कृष्ट स्कूलों की स्टेटस रिपोर्ट भी तलब की गई है। प्रदेश सरकार 189 अटल उत्कृष्ट स्कूलों की स्थापना कर चुकी है। इनके नजदीकी सरकारी प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों को अटल उत्कृष्ट स्कूलों से जोड़ा जा चुका है। शिक्षा सचिव ने सरकारी प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में पेयजल व शौचालय की स्थिति पर भी अपडेट जानकारी देने को कहा है।

।।उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड (UPSESSB), प्रयागराज ने स्नातकोत्तर शिक्षक (PGT) परीक्षा के लिए जारी किए एडमिट कार्ड ।।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड (UPSESSB), प्रयागराज ने स्नातकोत्तर शिक्षक (PGT) परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं। उम्मीदवार UPSESSB PGT एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट upsessb.org से डाउनलोड कर सकते हैं। इस परीक्षा का आयोजन 17, 18 अगस्त को किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड (UPSESSB), प्रयागराज के अनुसार, टीजीटी और पीजीटी के 15,198 पदों के लिए, जिसमें टीजीटी के 12,603 ​​पद और पीजीटी के 2,595 पद शामिल हैं, कुल 11.84 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किया है।

तिलवाडा-मयाली-चिरबटिया मोटर मार्ग पर जिला प्रशासन, पुलिस व परिवहन विभाग द्वारा विशेष संयुक्त चैकिंग अभियान संचालित किया गया।


तिलवाडा-मयाली-चिरबटिया मोटर मार्ग पर जिला प्रशासन, पुलिस व परिवहन विभाग द्वारा विशेष संयुक्त चैकिंग अभियान संचालित किया गया। जिसमें मोटर व्हीकल एक्ट के अन्तर्गत विभिन्न अभियोगों में कुल 20 वाहनों के चालान किये गये। जिसमें 08 वाहन चालकों के लाईसेन्स निलम्बित किये गये साथ ही 12 चालान कोविड-19 के नियमों का पालन न किये जाने, जैसे (मॉस्क न पहनने पर, सामाजिक दूरी का पालन न किये जाने पर आदि) के अभियोगों में किये गये। उक्त अभियान के अन्तर्गत वाहन चालकों व आमजनमानस को यातायात के नियमों का पालन व कोविड-19 की रोकथाम हेतु जागरूक किया गया।

।।सुरक्षित तरीके से करनी है इंटरनेट बैंकिंग तो इन बातों का रखें ख्याल ।।

क्या करें:-

✅ बैंक की वेबसाइट को हमेशा अपने ब्राउजर के एड्रेस बार में URL टाइप करके ही एक्सेस करें।
✅ गूगल प्लेस्टोर, एप्पल ऐप स्टोर, विंडोज मार्केटप्लेस आदि जैसे मोबाइल ऐप्लीकेशन स्टोर से ऑनलाइन बैंकिंग की पेशकश करने वाले मैलिशियस ऐप से सावधान रहें। ऐसे ऐप डाउनलोड करने से पहले उनकी ऑथेंटिसिटी बैंक से संपर्क कर जांच लें।
✅ कंप्यूटर को नियमित तौर पर एंटीवायरस के साथ स्कैन करें।
✅ समय-समय पर इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड बदलें।
✅ पोस्ट लॉगइन पेज पर हमेशा आखिरी लॉग-इन की तारीख व समय चेक करें।
✅ साइट को एक्सेस करने के लिए किसी भी ई-मेल या एसएमएस में दिए गए किसी भी लिंक पर क्लिक न करें।

क्या ना करें:-

❌ कोई भी बैंक प्रतिनिधि कस्टमर को ऐसा कोई मैसेज, ईमेल या कॉल नहीं करता, जिसमें व्यक्तिगत जानकारी, पासवर्ड या ओटीपी मांगा जाए। इस तरह की ई-मेल, SMS या फोन कॉल आपके बैंक अकाउंट से इंटरनेट बैंकिंग के जरिए धोखे से पैसे निकालने की कोशिश होती हैं। लिहाजा ऐसी ईमेल, SMS या फोन कॉल पर प्रतिक्रिया न दें।
❌ अगर आपके पास कोई ऐसा फोन, मैसेज या ईमेल आती है, जिसमें व्यक्तिगत इनफॉरमेशन देने के बदले या बैंक की वेबसाइट पर अकाउंट डिटेल्स अपडेट कर इनाम या रिवॉर्ड देने की बात की जा रही हो तो इस झांसे में न आएं।
❌ पब्लिक वाईफाई, फ्री वाईफाई, साइबर कैफे या शेयर्ड पीसी से इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस करने से बचें।
❌ बैंक की साइट पर एक बार लॉग इन करने के बाद बैंक कस्टमर से दोबारा यूजरनेम व पासवर्ड नहीं मांगता। न ही उनसे इंटरनेट बैंकिंग इस्तेमाल करते वक्त क्रेडिट या डेबिट कार्ड डिटेल्स मांगी जाती हैं। अगर आपके पास ऐसी किसी मांग का मैसेज पॉपअप के जरिए आए तो कोई भी सूचना न दें। फिर चाहे पेज कितना ही वास्तविक क्यों न लगता हो। ऐसे पॉप अप्स ज्यादातर कंप्यूटर को इन्फेक्ट करने वाले मालवेयर के चलते आते हैं।
❌ अपना इंटरनेट बैंकिंग ID एवं Password कभी भी किसी से साझा ना करें।

।।यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (UGC) ने नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (NET) पास कर चुके उम्मीदवारों के लिए अपने आधिकारिक वेबसाइट पर एक नोटिफिकेशन जारी किया है।।

यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (UGC) ने नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (NET) पास कर चुके उम्मीदवारों के लिए अपने आधिकारिक वेबसाइट पर एक नोटिफिकेशन जारी किया है। नोटिफिकेशन के अनुसार, जिन उम्मीदवारों ने दिसंबर 18 और जून 19 में आयोजित UGC NET परीक्षा पास कर ली है या फिर जिन्होंने यूजीसी स्कीम के तहत JRF क्वालीफाई कर लिया है लेकिन कोविड-19 महामारी की वजह से मास्टर्स कोर्स पूरा नहीं कर पाए हैं, ऐसे उम्मीदवारों को कोर्स पूरा करने के लिए अतिरिक्त समय दिया जाएगा।

जोशीमठ। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर कल शाम पीपलकोटी के पास पूरी पहाड़ी दरक कर हाईवे पर आ गई। जिसके साथ दर्जनों हरे भरे पेड़ भी दरक कर हाईवे पर आ रहे हैं। पूरी घटना का वीडियो वायरल हुआ है। हाइवे से गुज़रने वाले यात्री अफरातफरी में अपने वाहनों को पीछे दौड़ा रहे हैं।

।। उत्तराखंड मे कल यानी दो अगस्त के कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल खोले जाएंगे।।

उत्तराखंड में आगामी 2अगस्त के कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूल खोले जाएंगे। स्कूल आने वाले विद्यार्थियों के लिए पेरेंट्स का सहमति पत्र जरूरी है

।।वोडाफोन आइडिया (Vi) ने अपने 27 करोड़ यूजर्स को ऑनलाइन फ्रॉड करने वालों से बचकर रहने के लिए कहा।।

वोडाफोन आइडिया (Vi) ने अपने 27 करोड़ यूजर्स को ऑनलाइन फ्रॉड करने वालों से बचकर रहने के लिए कहा है. ये फ्रॉडस्टर्स नो योर कस्टमर (KYC) के जरिए यूजर्स को टार्गेट कर रहे हैं. Vi की वार्निंग एयरटेल के साइबर फ्रॉड को लेकर जारी किए एडवाइजरी के बाद आई है. एयरटेल के सभी सब्सक्राइबर्स को एक लेटर के जरिए संबोधित करते हुए सीईओ गोपाल विट्टल ने बताया कि कैसे ठगी करने वाले लोग नए टेक्नीक के जरिए मोबाइल यूजर्स को अपना शिकार बना रहे हैं. ऐसे ही मामला अब Vi सब्सक्राइबर्स के साथ भी देखने को मिल रहा है जहां फ्रॉडस्टर्स वोडाफोन आइडिया के कर्मचारी बनकर लोगों से उनका पर्सनल डेटा हासिल कर रहे हैं और यूजर्स को धमकी दे रहे हैं.

Vi ने अपने पब्लिक एडवाइजरी में यूजर्स को अलर्ट करते हुए बताया कि कैसे स्कैमर्स सब्सक्राइबर्स को टार्गेट कर रहे हैं. वोडाफोन आइडिया ने अपने एडवाइजरी में कहा कि, ” हमें जानकारी मिली है कि कुछ वोडाफोन आइडिया ग्राहकों को अननोन नंबर्स से SMS और कॉल आ रहे हैं और उन्हें अपना केवाईसी तुरंत अपडेट करने के लिए कह रहे हैं. ये फ्रॉडस्टर्स खुद को कंपनी का रिप्रेजेंटेटिव बता कर यूजर्स को केवाईसी न कराने पर सिम ब्लॉक करने की धमकी देते हैं. इसके साथ ही ये वैरिफिकेशन के नाम पर यूजर्स की गोपनीय जानकारी भी हासिल कर लेते हैं.

।। उत्तराखंड में आगामी दो अगस्त के कक्षा छह से 12वीं तक के स्कूल खोले जाएंगे।।

उत्तराखंड में आगामी दो अगस्त के कक्षा छह से 12वीं तक के स्कूल खोले जाएंगे। इस संबंध में आज शुक्रवार काे एसओपी जारी हो सकती है। शासन द्वारा शुक्रवार को एसओपी जारी करने की प्रबल संभावना जताई जा रही है।

कोरोना की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच उत्तराखंड मंत्रिमंडल ने एक अगस्त से कक्षा छह से 12 तक के सभी स्कूलों को खोलने का फैसला लिया है।

उत्तराखंडटिहरीगढ़वालनरेंद्रनगर में कल बेहद दर्द नाक हादसा वाहन पर पत्थर गिरने से 5 लोगों की घटना स्थल पर मौत…. और एक बाइक पर सवार 2 खाई में गिरे….

उत्तराखंडटिहरी गढ़वालनरेंद्रनगर में कल बेहद दर्द नाक हादसा वाहन पर पत्थर गिरने से 5 लोगों की घटना स्थल पर मौत…. और एक बाइक पर सवार 2 खाई में गिरे…. अभी तक कुछ पता नही चल सका है।

।।नैनीताल हाईकोर्ट ने पर्यटक स्थलों पर कोरोना प्रोटोकाल के निर्देशों का पालन न करने पर उत्तराखंड सरकार को लगाई फटकार।।

नैनीताल हाईकोर्ट ने पर्यटक स्थलों पर कोरोना प्रोटोकाल के निर्देशों का पालन न करने पर उत्तराखंड सरकार को फटकार लगाई है. कोर्ट ने कोरोना महामारी को देखते हुए सख्त रुख अपनाया है और चार धाम यात्रा को 18 अगस्त तक प्रतिबंधित कर दिया है. बता दें कि, उत्तराखंड के मुख्य पर्यटक स्थलों पर लगातार भीड़ बढ़ रही थी और कोरोना के निर्देशों को भी ताक पर रख दिया गया था.

पर्यटक स्थलों पर बढ़ गई थी भीड़

कोरोना की दूसरी लहर से थोड़ी राहत मिलते ही देश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हुई. लेकिन इस बीच लोगों ने लापरवाही बरतनी शुरू कर दी. कर्फ्यू में राहत मिलते ही लोग सैर-सपाटे के लिए पहाड़ी स्थानों पर स्थित पर्यटन स्थलों की ओर निकल पड़े. हालत कुछ इस कदर हो ग थी कि, दिल्ली के आसपास के हिल स्टेशनों में ट्रैफिक जाम की समस्या खड़ी हो गई. शिमला, मनाली, मसूरी समेत तमाम प्रमुख हिल स्टेशन और पर्यटन स्थलों पर लोगों की इतनी भीड़ उमड़ रही है, कि उन्हें काबू करना मुश्किल होने लगा था. वहीं, होटल पूरी तरह से फुल हो गये थे. इस बीच कोरोना निर्देशों के उल्लंघन पर गृह मंत्रालय ने सख्त तेवर दिखाये थे. गृह सचिव ने चेतावनी देते हुए कहा था कि, अभी कोरोना की दूसरी लहर खत्म नहीं हुई है और लोगों को ये बात याद रखनी चाहिए.कम हो रहे हैं कोरोना केस, लेकिन लापरवाही पड़ सकती है भारी

।। आज है अब्दुल कलाम (Dr. A.P.J. Abdul Kalam) की पूण्य तिथि।।

अब्दुल कलाम (Dr. A.P.J. Abdul Kalam) का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के छोटे से गाँव में हुआ जिसका नाम धनुषकोडी है | इस गाँव में वे अपने संयुक्त परिवार के साथ रहते थे | उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी | उनके पिता मछुआरों को नाव किराए पर देते थे तथा उनकी माता गृहिणी थीं | A.P.J Abdul Kalam साहब ने अपनी शिक्षा का आरम्भ रामेश्वरम के एक प्राथमिक विद्यालय से किया | कलाम साहब ने अपनी पढ़ाई पूरी करने व घर की आर्थिक सहायता हेतु अख़बार बेचने का कार्य आरम्भ किया |

अब्दुल कलाम (Dr. A.P.J. Abdul Kalam) ने बारहवीं रामनाथपुरम में स्थित स्च्वात्र्ज़ मैट्रिकुलेशन स्कूल (Schwartz Higher Secondary School) में सम्पन्न की | तत्पश्चात उन्होंने स्नातक की उपाधि (Bachelor Degree) प्राप्त करने हेतु सैंट जोसफ कॉलेज (St. Joseph College) में दाखिला लिया जो तिरुचिराप्पल्ली में स्थित है | किन्तु यहाँ उनकी शिक्षा का अंत नहीं हुआ उन्हें पढने व् सीखने का बहुत शौक था | वह आगे की पढ़ाई हेतु 1955 में मद्रास जा पहुंचे जहां से उन्होंने 1958 में अंतरिक्ष विज्ञान में स्नातक की उपाधि प्राप्त की | उनका सपना था कि वह भारतीय वायु सेना में फाइटर प्लेन के चालक यानि पायलट (Pilot) बन सकें, परन्तु यह पूर्ण न हो पाया, पर फिर भी उन्होंने हारल नहीं मानी

।। कर्नल अजय कोठियाल का चेहरा हो सकता AAP का cm का चेहरा।।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता कर्नल अजय कोठियाल ने कहा है कि पार्टी थोपने के बजाय आम जनता की राय लेकर सीएम घोषित करेगी। ऐसा राज्य में पहली बार हो रहा है। जबकि इससे पहले कांग्रेस और भाजपा में केंद्र से नेतृत्व का चेहरा राज्य की जनता को थोपा जाता है। शुक्रवार को रामनगर रोड स्थित एक होटल में आप का युवा संवाद कार्यक्रम हुआ। यहां पत्रकारों से वार्ता में वरिष्ठ नेता कर्नल अजय कोठियाल ने कहा राज्य से जरूरत के आधार पर जैसे रोजगार आदि के लिए पलायन होना गलत नहीं है, लेकिन मजबूरी में राज्य से पलायन करना चिंताजनक है। भाजपा व कांग्रेस की सरकार आज तक पलायन पर रोक लगाने में सफल नहीं हो सकी। उन्होंने कहा राज्य के उद्योगों में 70 प्रतिशत युवाओं को रोजगार देने की नाकाफी है।

।। शिल्पा ने राज की गिरफ्तारी के बाद पहली बार अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट साझा किया है।।

शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच के हिरासत में हैं। उन पर अश्लील फिल्म बनाने का आरोप है। पति की गिरफ्तारी के बाद से सोशल मीडिया पर शिल्पा शेट्टी को निशाने पर लिया जा रहा है और उन पर मीम्स बन रहे हैं। इस बीच शिल्पा ने राज की गिरफ्तारी के बाद पहली बार अपने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट साझा किया है।

शिल्पा ने एक किताब की फोटो शेयर की है, जिसमें जीवित रहने और चुनौतियों की बात का जिक्र है। किताब में लिखा गया है कि ‘मैं एक गहरी सांस लेती हूं, यह जानते हुए कि मैं जिंदा हूं और भाग्यशाली हूं। मैं पहले भी चुनौतियों का सामना कर चुकी हूं और मैं भविष्य में भी चुनौतियों का सामना करके बचूंगी। आज मुझे जिंदगी जीने के लिए कोई भी भटका नहीं सकता है।‘ 

।।पति के विवादों में फंसने के बाद शिल्पा सुपर डांसर चैप्टर 4 शो को अलविदा कह दिया।।

बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा को हाल ही में मुंबई पुलिस ने अश्लील फिल्में बनाने औऱ उन्हें ऐप पर अपलोड करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया है. जिसके चलते शिल्पा को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. बताया जा रहा है कि पति के विवादों में फंसने के बाद शिल्पा सुपर डांसर चैप्टर 4 शो को अलविदा कह दिया है.वहीं शिल्पा को रिप्लेस कर 90 के दशक की खूबसूरत एक्ट्रेस करिश्मा कपूर ने अब जज की कुर्सी संभाल ली है. शो से जुड़ी कुछ फोटोज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं. जिनमें करिश्मा कपूर सेट पर नजर आ रही हैं.

।।बकरीद के त्योहार के लिए सोमवार को दिशा-निर्देश जारी किए।।

यूपी की योगी सरकार ने 21 जुलाई को मनाए जाने वाले बकरीद के त्योहार के लिए सोमवार को दिशा-निर्देश जारी किए। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को बकरीद पर्व के मद्देनजर सभी जरूरी इंतजाम करने के निर्देश दिए हैं। 

सीएम योगी ने निर्देश दिए कि कोविड महामारी को देखते हुए पर्व से जुड़े किसी आयोजन में एक समय में 50 से अधिक लोग एक स्थान पर एकत्र नहीं हों। साथ ही यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी गोवंशीय पशु, ऊंट और अन्य किसी प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी नहीं हो। उन्होंने कहा कि कुर्बानी का कार्य सार्वजनिक स्थान पर नहीं किया जाए। इसके लिए चिन्हित स्थलों और निजी परिसरों का ही उपयोग हो। इस दौरान स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाए। 

आज का इतिहास:14 निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण हुआ, प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के इस फैसले का विरोध उनके ही वित्त मंत्री मोरारजी देसाई कर रहे थे

19 जुलाई 1969 यानी आज से ठीक 52 साल पहले उस वक्त की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी एक ऑर्डिनेंस लेकर आईं। ‘बैंकिंग कम्पनीज आर्डिनेंस’ नाम के इस ऑर्डिनेंस के जरिए देश के 14 बड़े निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया। इस फैसले को इंदिरा गांधी द्वारा लिए गए बड़े फैसलों में गिना जाता है।

दरअसल दूसरे विश्वयुद्ध के बाद यूरोप में बैंकों को सरकार के अधीन करने के विचार ने जन्म लिया। विश्वयुद्ध की वजह से देशों को भारी वित्तीय नुकसान उठाना पड़ा था। इससे इन देशों की आर्थिक हालत कमजोर हो गई थी। संकट से उबरने के लिए कई यूरोपीय देशों ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था।

भारत में भी 1949 में भारतीय रिजर्व बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया। अब तक भारत में जितने भी निजी बैंक थे, वे सभी उद्योगपतियों के हाथों में थे। लोग बैंकों में जाने से कतराते थे। साथ ही बैंकों का कारोबार केवल बड़े शहरों तक ही सीमित था।

इंदिरा का कहना था कि बैंकों को ग्रामीण क्षेत्रों में ले जाना जरूरी है। निजी बैंक देश के सामाजिक विकास में अपनी भागीदारी नहीं निभा रहे हैं। इसलिए बैंकों का राष्ट्रीयकरण जरूरी है। हालांकि इंदिरा का ये फैसला इतना विवादित था कि खुद उनकी ही सरकार के वित्त मंत्री मोरारजी देसाई इसके खिलाफ थे।

राष्ट्रीयकरण के बाद बैंकों की शाखाओं में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई। शहरों से निकलकर बैंक गांवों और कस्बों में खुलने लगे। इससे भारत की ग्रामीण आबादी को बैंकिंग से जुड़ने का मौका मिला। 3 दशक में ही देश में बैंकों की शाखाएं 8 हजार से बढ़कर 60 हजार के आंकड़े को पार कर गईं।

जिन 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया, उनके पास उस वक्त देश की करीब 80 फीसदी जमा पूंजी थी, लेकिन इस पूंजी का निवेश केवल ज्यादा लाभ वाले क्षेत्रों में ही किया जा रहा था। दूसरी ओर आजादी के 10 साल के भीतर ही 300 से भी ज्यादा छोटे-मोटे बैंक कंगाल हो गए थे। इसमें लोगों की करोड़ों की जमा पूंजी भी डूब गई थी। इस वजह से सरकार ने इन बैंकों की कमान अपने हाथ में लेने का फैसला लिया।

इस फैसले के क्रियान्वयन का जिम्मा इंदिरा ने अपने प्रधान सचिव पीएन हक्सर को सौंपा। कहा जाता है कि हक्सर सोवियत संघ की समाजवादी विचारधारा से प्रभावित थे और वहां बैंकों पर सरकार का नियंत्रण था। 1967 में इंदिरा ने कांग्रेस पार्टी में 10 सूत्रीय कार्यक्रम पेश किया।

इस कार्यक्रम में बैंकों पर सरकार का नियंत्रण, राजा-महाराजाओं को मिलने वाली सरकारी मदद और न्यूनतम मजदूरी का निर्धारण मुख्य बिंदु थे। 7 जुलाई 1969 को कांग्रेस के बेंगलुरु अधिवेशन में इंदिरा ने बैंकों के राष्ट्रीयकरण का प्रस्ताव रखा।

इंदिरा के इस फैसले का तत्कालीन वित्त मंत्री मोरारजी देसाई ने विरोध किया। इसके बाद इंदिरा ने मोरारजी देसाई का मंत्रालय बदलने का आदेश दे दिया। इससे नाराज होकर मोरारजी देसाई ने वित्त मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

19 जुलाई 1969 को इंदिरा ने एक अध्यादेश जारी किया और 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण कर दिया। इसके बाद अप्रैल 1980 में 6 और बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया।

1941: टॉम एंड जैरी को मिला था अपना नाम

1941 में आज ही के दिन बच्चों के पसंदीदा कार्टून कैरेक्टर टॉम एंड जैरी को अपना नाम मिला था। दरअसल 1940 में “पुस गेट द बूट्स” नाम की एक कार्टून फिल्म में टॉम एंड जैरी पहली बार लोगों के सामने आए थे। ये फिल्म इतनी सफल हुई कि इसे बेस्ट एनिमेटेड फिल्म के लिए ऑस्कर नॉमिनेशन मिला। हालांकि इस फिल्म में दोनों कैरेक्टर का नाम जेस्पर और जिंक्स था।

जब ये मूवी फेमस हुई तो एनिमेटर्स ने दोनों कैरेक्टर को दूसरा नाम देने के बारे में सोचा। टॉम एंड जैरी को बनाने वाले विलियम हैना और जोसेफ बार्बेरा ने दोनों की जोड़ी को बढ़िया नाम देने वाले को 50 डॉलर का इनाम देने की घोषणा की। एनिमेटर जॉन कार ने चूहे-बिल्ली की इस जोड़ी को टॉम एंड जैरी नाम दिया।

विलियम हैना और जोसेफ बार्बेरा।

विलियम और जोसेफ को ये नाम पसंद आया। दोनों ने मिलकर ‘द मिडनाइट स्नैक’ नाम से दूसरी फिल्म बनाई। 19 जुलाई 1941 को ये फिल्म रिलीज हुई। इस फिल्म में पहली बार चूहे और बिल्ली को टॉम एंड जैरी नाम दिया गया।

आज के दिन को इतिहास में इन महत्वपूर्ण घटनाओं की वजह से भी याद किया जाता है…

2010: कोलकाता में एक ट्रेन दुर्घटना में 63 लोगों की मौत हो गई।
1985: स्कूल टीचर क्रिस्टा मैकोलिफ को अंतरिक्ष मिशन के लिए चुना गया। पहली बार किसी टीचर को अंतरिक्ष मिशन के लिए चुना गया था। हालांकि जनवरी 1986 में मिशन पर जाने के दौरान ही चैलेंजर में विस्फोट से क्रिस्टा का निधन हो गया।

1980: मॉस्को में ओलिंपिक की शुरुआत हुई। अफगानिस्तान में सोवियत संघ की सेना के दखल से कई देशों ने इन खेलों का बहिष्कार किया।

1961: ट्रांस वर्ल्ड एयरलाइंस ने फर्स्ट क्लास पैसेंजर्स को फ्लाइट में मूवीज दिखाने की शुरुआत की।

1952: इंग्लैंड के खिलाफ फॉलोऑन खेलते हुए पूरी भारतीय क्रिकेट टीम 82 रन पर आउट हो गई।

1947: बर्मा के प्रधानमंत्री आंग सेन की रंगून में हत्या कर दी गई।

1903: फ्रेंच साइक्लिस्ट मोरिस गेरिन ने 2,428 किलोमीटर लंबा पहला टूर डी फ्रांस जीता।

1827: क्रांतिकारी मंगल पांडे का जन्म उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिले में हुआ।

।।उत्तराखंड में जल्द आ सकता हैं फीस एक्ट ।।

उत्तराखंड में निजी स्कूलों की मनमानी पर रोक लगाई जा सके इसके लिए सरकार फीस एक्ट लाने जा रही है। शिक्षा विभाग की ओर से इसका ड्राफ्ट तैयार कर इसे शासन को भेजा गया है। खास बात यह है कि एक्ट बनने के बाद स्कूलों के खिलाफ हर कोई शिकायत नहीं कर सकेगा। जबकि स्कूल सुविधा के अनुसार खुद फीस तय करेंगे। इससे सवाल यह खड़ा हो रहा है कि जब स्कूलों को खुद ही फीस तय करनी है तो फीस को लेकर मनमानी कैसे रुकेगी। 

प्रदेश में फीस एक्ट के लिए लंबे समय से कवायद चल रही है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के निर्देश के बाद विभाग की ओर से अब इसका ड्राफ्ट फाइनल कर इसे शासन को भेजा गया है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक स्कूल क्या सुविधाएं दे रहे हैं इसके हिसाब से वे खुद फीस तय करेंगे। जबकि स्कूलों के खिलाफ राज्य स्तरीय कमेटी तभी जांच करेगी। जब किसी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के वास्तविक अभिभावक शिकायत करेंगे।

।।बालिका बधू की दादी सा का निधन।।

कल की सुबह सुरेखा सीकरी ने मुंबई में अंतिम सांस ली। अंग्रेजी वेबसाइट इंडियन एक्सप्रेस से उनके मैनेजर ने कहा, ‘आज सुबह 75 साल की उम्र में सुरेखा सीकरी का कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया। दूसरे ब्रेन स्ट्रोक के बाद वह तमाम जटिलताओं से जूझ रही थीं। परिवारवाले और केयर टेकर उनकी देखभाल कर रहे थे। परिवार इस वक्त प्राइवेसी चाहता है।‘

। 1983 विश्व कप के हिस्सा रहे यशपाल शर्मा का हुआ निधन ।।


यशपाल शर्मा साल 1983 में विश्व कप (World Cup) जीतने वाली टीम का अहम हिस्सा थे. वर्ल्डकप में वेस्टइंडीज़ के खिलाफ खेले गए पहले मैच में यशपाल शर्मा ने 89 रनों की शानदार पारी खेली थी, जिसमें टीम इंडिया की जीत हासिल हुई थी. इसके अलावा सेमीफाइनल में भी यशपाल शर्मा ने 61 रनों की पारी खेली थी, तब भारत ने इंग्लैंड को मात दी थी.

।।रविशंकर प्रसाद, हर्षवर्धन और प्रकाश जावड़ेकर अहम जिम्मेदारी दी जाएगी. इसका ऐलान जल्द होगा।।

रविशंकर प्रसाद, हर्षवर्धन और प्रकाश जावड़ेकर सहित 12 मंत्रियों ने हाल ही में केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा दे दिया था. अब खबर मिल रही है कि इनमें से रविशंकर प्रसाद और प्रकाश जावड़ेकर को पार्टी में अहम जिम्मेदारी दी जाएगी. इसका ऐलान जल्द होगा. दोनों को पार्टी में राष्ट्रीय महासचिव या राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया जा सकता है. साथ ही चुनावी राज्यों का प्रभारी की अहम ज़िम्मेदारी भी सौंपी जा सकती है.

अगले साल की शुरुआत में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव होने हैं और संभावना जताई जा रही है कि इसको मद्देनजर रखते हुए रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, निशंक और हर्षवर्धन सहित कुछ नेताओं को संगठन में शामिल कर चुनावी राज्यों की जिम्मेदारी दी जा सकती है. प्रसाद और जावड़ेकर पहले भी बीजेपी संगठन में अहम भूमिका निभा चुके हैं. निशंक उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भी रहे हैं जबकि हर्षवर्धन दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष के रूप में भी काम कर चुके हैं.

इलाज हिंदी कहानी

एक राजा मोटापा बढ़ने की वजह से बीमार पड़ गया। डॉक्टरों ने उसे सलाह दी कि वह खाना कम कर दे तो मोटापा घट सकता है। डॉक्टरों की इस सलाह से राजा गुस्सा हो गया।

राजा ने ऐलान किया की जो भी उसका अच्छा इलाज करेगा, उसे बड़ा इनाम दिया जाएगा। लेकिन इसमें एक शर्त थी। जो भी इस कार्य में सफल न रहेगा, उसका सिर कलम कर दिया जाएगा।

ज्योतिषियों ने भविष्यवाणी की कि राजा का जीवन अब एक महीने का और बचा है। यह जानकर राजा डर गया और परेशान रहने लगा।

जिस ज्योतिषी ने यह भविष्यवाणी की थी, उसे महीने भर के लिए जेल में डाल दिया गया, ताकि यह देखा जा सके कि उसकी भविष्यवाणी में कितना दम है।

राजा बहुत डरा हुआ था। उसने खाना पीना भी बहुत कम कर दिया और महीने भर के भीतर ही उसका वजन काफी गिर गया। इसके बाद राजा ने जेल से ज्योतिषी को बुलाया और कहा, “आप क्यों नहीं मुझे तुम्हारा सिर कलम कर देना चाहिए”।

इस पर ज्योतिषी बोली कि “अपने को शीशे में देखिए कि आप अब कितने स्वस्थ हो गए हैं”। अपने को स्वस्थ और दुबला काया देखकर राजा का आश्चर्य का कोई ठिकाना न रहा

तब ज्योतिषी ने राजा से कहा कि असल डॉक्टर तो मैं ही था। मौत के बहाने मैंने आपको डरा दिया था, ताकि आप खाना कम कर दे और स्वस्थ हो जाए।

ज्योतिषी की यह बात सुनकर राजा बहुत ही खुश हुआ और उसे इनाम दिया। साथ ही वादा किया कि वह अब कभी भी खाने-पीने में अति नहीं करेगा।

एक व्यक्ति था। उसके गुरु एक सन्यासी थे। वह व्यक्ति दुनिया दारी से ऊब सा गया था। वह अपने गुरु की तरह ही दुनियादारी छोड़कर सन्यासी  बना चाहता था।

उसने अपने परिवार को यह बात बताई तो सभी ने मना कर दिय। यह कहते हुए की हम सब आपसे बहुत प्यार करते है।

फिर उसने अपने गुरु को यह बात बताई परंतु साथ ही कहा कि उनका घर-परिवार बच्चे और पत्नी उसे सन्यास लेने नहीं दे रहे हैं क्योंकि वह मुझसे बेहद प्यार करते हैं।

गुरु ने कहा “यह किसी सूरत में प्यार नहीं है”। गुरु ने उसे बहुत समझाया पर वह व्यक्ति नहीं मान रहा था। फिर गुरु ने कहा, “अच्छा ठीक है”। गुरु जी उस व्यक्ति को मठ में ले गए।

इसके बाद गुरु ने उसे योग विद्या सिखाई जिससे वह अपनी सांसे रोक कर मुरदे जैसी अवस्था में घंटो तक रह सकता था। यह सब सिखाने के बाद गुरु ने उसे एक योजना बताई और उसे घर भेज दिया।

दूसरे दिन वह व्यक्ति अपने घर पर मुर्दा पाया गया। परिवार के सारे लोग इकट्ठे हो गए। सभी रो रहे थे। विलाप कर रहे थे। वही उसकी पत्नी सबसे ज्यादा दुखी हो रही थी।

पूरे घर में कोहराम मच गया था। सभी की आंखे नम थी। वह व्यक्ति मुर्दा अवस्था में था, मगर योग अभ्यास से आसपास के माहौल को महसूस कर सकता था और सुन सकता था।

उसे बड़ा सुकून मिला कि उसका परिवार उसे कितना प्यार करते हैं, अंतत: उसने संन्यास का इरादा त्यागने का फैसला कर लिया।

कुछ ही देर बाद उस व्यक्ति के गुरु वहाँ पहुंचे। गुरु ने सभी को शांत किया। और अपने शिष्य के पड़े शव को देखा।

कुछ देर शव को देखने के बाद उसके परिवार वालो को कहा इस शव में जान फुका जा सकता है। इस व्यक्ति को मैं अपनी विद्या से जिंदा कर सकता हूँ।

यह बात सुनकर घर के सभी लोग बहुत खुश हो गए। सभी को एक उम्मीद की किरण नजर आ रही थी।

फिर सभी ने उस सन्यासी से कहा “तो आप यह काम जल्द से जल्द करिये”। इस पर उस सन्यासी ने कहा “एक समस्या है, इस कार्य लिए परिवार के किसी अन्य सदस्य को अपनी प्राण त्यागना होगा।

यह सुन कर सभी लोगों की सांसे रुकी की रुकी रह गई। सभी ने एक दूसरे को देखा। सन्यासी ने परिवार के सभी सदस्यों से एक एक कर पूछा पर किसी ने भी हां नहीं कहा।

सभी ने अपनी जान की जरूरत बताई और अपनी जिम्दारी भी।

सन्यासी ने फिर उस व्यक्ति के पत्नी से कहा, अगर यह नहीं रहे तो तुम कैसे जियोगी। उसकी पत्नी ने तुरंत जवाब दिया मैं इनके बगैर भी जी लुंगी।

गुरु ने उस व्यक्ति के बच्चों से भी यही सवाल किया। उनका भी जवाब न ही थी। फिर यही सवाल उस व्यक्ति के माता-पिता से किया। उनका भी जवाब एक ही था।

इसके बाद गुरु उस व्यक्ति के शव के पास आए और बोले हे व्यक्ति तुम उठ खड़े हो जॉव। वह व्यक्ति उठ कर बैठ गया।

फिर उसके गुरु वहाँ से जाने लगे। उसने अपने गुरु को रोका और गुरु से कहा, “मैं भी आपके साथ चलता हु”।

अब उस व्यक्ति को समझ में आ गया था कि उसकी जरूरत उसके घर में कितना है। अब वह एक पल भी अपने घर में रहना नहीं चाहता था।हमें यह सीख मिलता है कि आप के होने न होने से किसी पर ज्यादा कुछ असर नही पड़ता है.

उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि राज्य की भाजपा सरकार ‘बहुत जल्द जनसंख्या नियंत्रण वाले एक क़ानून को लागू करने के बारे में फ़ैसला करेगी.”

उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि राज्य की भाजपा सरकार ‘बहुत जल्द जनसंख्या नियंत्रण वाले एक क़ानून को लागू करने के बारे में फ़ैसला करेगी.”

बीबीसी संवाददाता नितिन श्रीवास्तव के साथ एक ख़ास बातचीत में उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि उनकी सरकार एक भू-क़ानून और दूसरे मामलों पर आपस में विचार-विमर्श कर के निर्णय लेगी.”

अरविंद केजरीवाल ।।उत्तराखंड के लोगों से 300 यूनिट बिजली फ्री और पुराने बिजली बिल माफ।।

उत्तराखंड के 2022 के विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस की वोट बैंक पर सेंध लगाने के लिए आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक दिवसीय दौरे पर रविवार को दून पहुंचे। इस दौरान उन्होंने लोक लुभावन घोषणा कर वोट साधने की पूरजोर कोशिश की। उन्होंने उत्तराखंड के लोगों से 300 यूनिट बिजली फ्री और पुराने बिजली बिल माफ किए जाने संबंधी वादे किए। उन्होंने कह कि उत्तराखंड में 24 घंटे बिजली देंगे। वहीं उत्तराखंड के किसानों को मुफ्त बिजली दी जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने अगली बार आने का वादा भी किया और कहा कि अगली बार वह आम आदमी पार्टी के सीएम फेस की घोषणा करने के लिए आएंगे।

।। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड राज्य के विकास में केंद्र सरकार के सहयोग पर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड राज्य के विकास में केंद्र सरकार के सहयोग पर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में उत्तराखंड तीव्र गति से विकास पथ पर आगे बढ़ रहा है।  प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री बनने पर पुष्कर सिंह धामी को बधाई देते हुए आशा व्यक्त की कि युवा नेतृत्व में राज्य का तेजी से चहुंमुखी विकास होगा।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को राज्य से संबंधित ज्वलंत मुद्दों के बारे में बताया। उन्होंने कोविड की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए राज्य सरकार की तैयारियों के बारे में अवगत कराया। साथ ही चारधाम यात्रा, कांवड़ यात्रा पर भी चर्चा की। प्रधानमंत्री से मुख्यमंत्री की वार्ता निर्धारित 15 मिनट से अधिक 1 घंटा 15 मिनट तक चली।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने केदारनाथ धाम पुनर्निर्माण कार्यों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से केदारनाथ धाम में द्वितीय चरण के पुनर्निर्माण कार्यों के वर्चुअल शिलान्यास के लिए समय प्रदान करने का अनुरोध किया।   

।। NIOS डीएलएड प्रशिक्षण की प्राथमिक स्कूलों में भर्ती को लेकर कई संगठन कर रहे है विरोध।।

जबकि इसके बारे में निम्न बाते सबको पता है
1.*वह RTEACT-2009 के अंतर्गत आता हैं जो वर्तमान समय में सम्पूर्ण देश में लागू हैं
2.जिस ncte से इनको मान्यता हैं वह 6जनवरी/2021 को पूरे देश के लिए nios deled से सम्बंधित स्पष्टीकरण पत्र जारी करती हैं कि यें प्रशिक्षण अन्य रेगुलर deled के समान मान्य हैं
3.यह भारत का एकमात्र ऐसा प्रशिक्षण हैं जिसे विभिन्न राज्यों कि अस्वीकारता के पश्चात भी न्यायपालिकाओ के हस्तक्षेप के बाद स्वीकार किया गया
4.बात योग्य औऱ अयोग्य कि करते हैं कि ज़ब आप इतने योग्य हैं तो nios deled शिक्षकों से योग्यता के आधार पर कियू खौफ पाले बैठे हो दिखाइए अपनी योग्यता औऱ लीजिये nios deled से पहले नियुक्ति

  1. सबसे महत्वपूर्ण बिंदु पर उक्त संगठनों का ध्यान आकर्षित करना चाहुँगा कि आपने प्रशिक्षण किया हैं औऱ हमें कराया गया हैं
    अर्थात हम पर थोपा गया हैं
    6.कुछ संगठन यें कहते हैं कि हमें सरकार ने प्रशिक्षण कराया है तो उनके ज्ञान में वृद्धि करता चलू कि nios deled प्रशिक्षण केंद्र सरकार के आह्वान पर राज्य सरकारों ने कराया हैं
    बस यें ही मूल अंतर हैं आपके औऱ हमारे प्रशिक्षण में..
    इसीलिए nios deled किसी का विरोध नहीं करता हैं परन्तु अपने अधिकारों के लिए हर स्तर से तैयार हैं

।। 24 वर्षीय युवती ने लूडो में पिता से हारने के बाद फैमिली कोर्ट का दरवाजा खटखटाया ।।

 मध्य प्रदेश में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। राजधानी भोपाल में एक 24 वर्षीय युवती ने लूडो में पिता से हारने के बाद फैमिली कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। युवती का आरोप है कि पिता ने लूडो के खेल के दौरान उसे कोई धोखा दिया। फैमिली कोर्ट की काउंसलर सरिता रजनी ने बताया कि आजकल के बच्चे हार का सामना नहीं कर पाते हैं, जिसकी वजह से इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज की पीढ़ी में हार के दर्द को बर्दाश्त करने की ताकत पैदा करनी होगी। लॉकडाउन के दौरान युवती अपने दो भाई बहनों और पिता के साथ लूडो खेला करती थी। लगातार हारने के कारण युवती के मन में पिता के खिलाफ नाराजगी बढ़ती चली गई। समय के साथ नाराजगी की भावना इतनी बढ़ गई कि परिवार को इस मामले को संभालने के लिए काउंसलिंग का सहारा लेना पड़ा। सरिता रंजन ने बताया कि एक 24 साल की युवती हमारे पास आई और उसने बताया कि जब भी वह भाई बहनों और पिता के साथ लूडो खेलती है तो उसके पिता उसकी गोटी काट दिया करते थे। ऐसा करने से उसे लगता था कि पिता ने उसके विश्वास को भी काट दिया। युवती ने बताया कि उसने कभी सोचा नहीं था कि उसके पिता ही उसे हराएंगे। युवती ने इस भावना को कभी परिवार के साथ साझा नहीं किया। लड़की की मां नहीं है और वह तीन भाई बहनों में सबसे छोटी है। सरिता रजनी कहती हैं कि आज कल के बच्चों में हार करने की क्षमता नहीं है और अपने परिवार के सदस्यों से बड़ी उम्मीदें रखती हैं और जब यह उम्मीदें पूरी नहीं होती हैं तो तनाव का कारण बन जाती हैं

।। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली से की मुलाक़ात।।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और भारतीय क्रिकेट बोर्ड के मौजूदा अध्यक्ष सौरव गांगुली के घर जाकर उनसे मुलाकात की. बता दें कि आज गांगुली अपना 49वां जन्मदिन मना रहे हैं. ऐसे में ममता ने उनके घर जाकर उन्हें जन्मदिन की मुबारकबाद दी. वहीं इस मुलाकात के बाद सियासी अटकलें तेज हो गई हैं.

।।मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में देहरादून सहित पांच जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई।।

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में देहरादून सहित पांच जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने देहरादून, पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिलों में भारी बारिश की संभावना जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। वहीं इस अलर्ट के बीच दोपहर करीब साढ़े तीन बजे बाद राजधानी देहरादून में झमाझम बारिश हुई और मौसम सुहावना हो गया।

।।12 जुलाई से खुलेंगे उत्‍तराखंड के स्‍कूल।।

12-

उत्‍तराखंड सरकार ने 12 जुलाई से कक्षा 1 से 12 तक के सारे स्‍कूल खोलने का फैसला क‍िया है। हालांकि स्‍टूडेंट्स के आने पर रोक होगी। फिलहाल केवल टीचर्स और स्‍टाफ ही स्‍कूल आएंगे। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि स्‍टूडेंट्स के लिए अभी ऑनलाइन पढ़ाई ही जारी रहेगी।

।।केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने अपने पद से दिया इस्तीफा ।।

कैबिनेट विस्तार के बीच अब मौजूदा मंत्रियों के इस्तीफे की खबरें सामने आने लगी हैं. जानकारी के मुताबिक केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. निशंक ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखकर स्वास्थ्य कारणों से इस्तीफा देने की बात कही है. कुछ दिन पहले कोरोना के चलते निशंक एम्स अस्पताल में भर्ती हुए थे. इसके बाद उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ी गई थी और उन्हें करीब 15 दिन तक आईसीयू में भी रहना पड़ा था. कोरोना काल में छात्रों की परीक्षाओं और सिलेबस को लेकर रमेश पोखरियाल निशंक ने शिक्षा मंत्री के तौर पर महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

।। मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार का 98 साल में निधन ।।

मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार का निधन हो गया है. वह 98 साल के थे और काफी समय से बीमार चल रहे थे. उन्होंने मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में आखिरी सांस ली.  दिलीप कुमार के पारिवारिक मित्र फैजल फारुखी ने आज एक्टर के ट्विटर से उनके निधन की जानकारी दी. उन्होंने लिखा- बहुत भारी दिल से ये कहना पड़ रहा है कि अब दिलीप साब हमारे बीच नहीं रहे.  दिलीप कुमार के निधन की खबर के बाद से ही इंडस्ट्री में शोक की लहर है.आज शाम 5 बजे मुंबई के सांताक्रूज में उनके पार्थिव शरीर को सुपुर्दे खाक किया जाएगा.।।

।। उत्तराखंड बोर्ड के हाईस्कूल और इंटर के व्यक्तिगत छात्र-छात्राओं को 10 फीसद वेटेज अंक पाने के लिए देनी होगी आनलाइन या आफलाइन मौखिक परीक्षा ।।

उत्तराखंड बोर्ड के हाईस्कूल और इंटर के व्यक्तिगत छात्र-छात्राओं को 10 फीसद वेटेज अंक पाने के लिए आनलाइन या आफलाइन मौखिक परीक्षा देनी होगी। उत्तराखंड बोर्ड के हाईस्कूल और इंटर के व्यक्तिगत छात्र-छात्राओं को भी संस्थागत छात्र-छात्राओं की तरह परीक्षा नहीं देनी होगी। व्यक्तिगत छात्र-छात्राओं के परीक्षा परिणाम के लिए लिए भी संस्थागत की तर्ज पर मूल्यांकन का फार्मूला रखा गया है।

इसके आधार पर हाईस्कूल में जिन विषयों में 100 अंक के सैद्धांतिक परीक्षा होती है, उनमें नौवीं कक्षा की वार्षिक परीक्षा के अंकों से 75 फीसद वेटेज और हाईस्कूल की मासिक, अद्र्ध वार्षिक, प्री बोर्ड या अन्य परीक्षा के अंकों का 25 फीसद वेटेज अंक दिया जाएगा। जिन विषयों में 80, 60, 40, 30 और 25 अंक सैद्धांतिक परीक्षा के लिए निर्धारित हैं, उसमें 75 फीसद अंक वेटेज के मिलेंगे। हाईस्कूल की परीक्षा के लिए निर्धारित वेटेज के मुताबिक अंक देने को संबंधित विषय के अध्यापक आनलाइन या आफलाइन मौखिक परीक्षा कराएंगे। इसके आधार पर अंक दिए जाएंगे। इसीतरह इंटर के व्यक्तिगत परीक्षार्थियों को सैद्धांतिक परीक्षा के लिए निर्धारित अंकों का 10 फीसद वेटेज देना तय किया गया है।

।। रूद्रप्रयाग के रतूड़ा से दुखद खबर है, रतूड़ा पुलिस लाईन के पास एक कार अलकनन्दा नदी में गिर गयी, सूचना के बाद पुलिस, एसडीआरएफ, डीडीएमओ ओर जल पुलिस की टीम मौके पर पहुच गयी ।।

रूद्रप्रयाग। रूद्रप्रयाग के रतूड़ा से दुखद खबर है, रतूड़ा पुलिस लाईन के पास एक कार अलकनन्दा नदी में गिर गयी, सूचना के बाद पुलिस एसडीआरएफ, डीडीएमओ ओर जल पुलिस की टीम मौके पर पहुच गयी है, दुर्घटनागस्त कार में 6 लोगों के सवार होने की सूचना है, जिसमें से 4 घायल लोगों को रेस्क्यू कर जिला अस्पताल भेज दिया गया है, जबकि दो अन्य लापता लोगों की खोज में सर्च व रेस्क्यू अभियान जारी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना साढ़े 9 बजे के के करीब की बतायी जा जार रही है, जब बोलेरो कार संख्या यूके07 DS 5845 कर्णप्रयाग से देहरादून जा रहे थे, कि पुलिस लाईन रतूड़ा के पास कारण अनियंत्रित होकर 100 मीटर गहरी खाई से होते हुए अलकनन्दा में गिर गयी, कार में नेहा उम्र 12 वर्ष, वन्दना उम्र 11 वर्ष, एक अन्य बच्चा उम्र 4 वर्ष, राधा देवी उम्र 35 वर्ष को रेस्क्यू कर जिला अस्पताल भेज दिया गया है।

जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नदंन सिंह रजवार ने बताया कि मौके पर पुलिस, एसडीआरएफ, डीडीएमओ ओर जल पुलिस की टीम पहुच चुकी है मौके पर सर्च व रेस्क्यू अभियान तेज गति से चलाया जा रहा है, कार में 6 लोगों के सवार होने की सूचना है, जिसमें से 4 घायल लोगों को रेस्क्यू कर जिला अस्पताल भेज दिया गया है, जबकि दो अन्य लापता लोगों की खोज में सर्च व रेस्क्यू अभियान जारी है। ।

।।विधानसभा के पहले सत्र के दौरान शुक्रवार को भाजपा के दो विधायकों मनोज तिग्गा और जोएल मुर्मू ने तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुकुल राय को पैर छूकर प्रणाम किए।।अटकलों का बाजार गर्मअटकलों का बाजार गर्म।।

विधानसभा के पहले सत्र के दौरान शुक्रवार को भाजपा के दो विधायकों मनोज तिग्गा और जोएल मुर्मू ने तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मुकुल राय को पैर छूकर प्रणाम किए। इसके बाद से अटकलों का बाजार गर्म है। हालांकि भाजपा के दोनों विधायकों ने इसे शिष्टाचार बताया है। दरअसल पिछली विधानसभा में मनोज तिग्गा भाजपा परिषदीय दल के नेता थे। इस बार उनका नाम विपक्ष के नेता के रूप में सबसे पहले सामने आया। लेकिन भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने सुवेंदु अधिकारी को विपक्ष के नेता की सीट पर बिठा दिया।

ऐसे में राजनीतिक हलकों में मनोज तिग्गा और जुएल मुर्मू द्वारा मुकुल के नमन को विशेष महत्व दिया जा रहा है। मुकुल फिलहाल विधानसभा में विपक्ष की सीट पर बैठ रहे हैं। लेकिन साफ है कि पुरानी पार्टी भाजपा में उनके अनुयायी भी कम नहीं हैं। जहां एक ओर विधानसभा भवन में राज्यपाल के भाषण के दौरान भाजपा ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया, वहीं दूसरी ओर भाजपा के दो विधायक मनोज तिग्गा और जोएल मुर्मू मुकुल रॉय के चरणों में नतमस्तक हो गए। हालांकि दोनों विधायकों की ओर से इस शिष्टाचार बताए जाने के बावजूद अटकलों का बाजार गर्म है।

।। उत्तराखंड में पुष्कर सिंह धामी होंगे नए मुख्यमंत्री।।

उत्तराखंड में तीरथ सिंह रावत के इस्तीफे के बाद पुष्कर सिंह धामी राज्य के 11वें मुख्यमंत्री होंगे। उनके नाम पर शनिवार दोपहर को भाजपा विधायक दल की बैठक में मुहर लगा दी गई। ये बैठक 3 बजे से केंद्रीय पर्यवेक्षक नरेंद्र तोमर और प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम की मौजूदगी में हुई। केंद्रीय पर्यवेक्षक ने मीडिया को बताया कि बैठक में किसी ओर के नाम की चर्चा नहीं हुई। सिर्फ पुष्कर सिंह धामी का नाम रखा गया और सबकी सहमति से इस पर मुहर लगा दी गई।

इस बार भाजपा ने तमाम अनुभवी विधायकों को दरकिनार करते हुए युवा चेहरे को तवज्जो दी है। संभावना है कि वे आज ही राजभवन सीएम की शपथ लेंगे। नाम की घोषणा होने के बाद पुष्कर सिंह धामी ने कहा, ‘पार्टी ने एक सामान्य कार्यकर्ता, एक भूतपूर्व सैनिक के बेटे को राज्य की सेवा के लिए चुना है। हम लोगों की भलाई के लिए मिलकर काम करेंगे। हम कम समय में लोगों की सेवा करने की चुनौती स्वीकार करते हैं।’

।। उत्तराखंड में पुष्कर सिंह धामी होंगे नए मुख्यमंत्री।।

पुष्कर सिंह धामी का जीवन परिचय
पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड में खटीमा विधानसभा से विधायक हैं। पुष्कर सिंह धामी का जन्म 16 सितंबर 1975 को पिथौरागढ के टुण्डी गांव में हुआ था। उनके पिता सैनिक थे। आर्थिक स्थिति कमजोर होने के बीच सरकारी स्कूलों से प्राथमिक शिक्षा ली। 

।।सीएम तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार देर रात राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को दिया इस्तीफा ।।

उत्तराखंड में चार महीने के अंदर ही सरकार को नया नेतृत्व मिलने जा रहा है। भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देशों के बाद सीएम तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार देर रात राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को इस्तीफा सौंप दिया। इससे पहले दिल्ली में तीरथ ने सांविधानिक संकट का हवाला देते हुए खुद पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखे पत्र में पद छोड़ने की इच्छा जताई थी। 

भारतीय डाक (India Post) में नौकरी तलाश रहे युवाओं के लिए सुनहरा मौका

भारतीय डाक (India Post) में नौकरी तलाश रहे युवाओं के लिए सुनहरा मौका है. इसके लिए (India Post GDS Recruitment 2021) भारतीय डाक (India Post) ने बिहार पोस्टल सर्कल (Bihar Postal Circle) के तहत शाखा पोस्ट मास्टर (बीपीएम), सहायक शाखा पोस्ट मास्टर (एबीपीएम) और ग्रामीण डाक सेवक के पदों (India Post GDS Recruitment 2021) के लिए आवेदन मांगे हैं. इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार जो इन पदों (India Post GDS Recruitment 2021) के लिए आवेदन करना चाहते हैं, वे India Post की आधिकारिक वेबसाइट appost.in पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं. इन पदों (India Post GDS Recruitment 2021) पर आवेदन करने की अंतिम तिथि 14 जुलाई 2021 है.

।।आज से खुले दून चिड़ियाघर व आनंद वन।।

कोरोना संक्रमण कम होने के चलते बुधवार से दून चिड़ियाघर आम पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। इस बाबत मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक व दून चिड़ियाघर निदेशक ने आदेश भी जारी किए हैं। कोरोना की दूसरी लहर शुरू होने के बाद केंद्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय और नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी ने सभी राष्ट्रीय पार्कों, वन्यजीव विहारों, चिड़ियाघरों और टाइगर रिजर्व को पर्यटकों के लिए बंद करने के आदेश जारी किए गए थे।

वन मंत्रालय और नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी ने 29 जून तक टाइगर रिजर्व और चिड़ियाघरों को बंद करने की हिदायत दी थी। इस बीच कोरोना संक्रमण थमने के चलते मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक जेएस सुहाग व चिड़ियाघर निदेशक पीके पात्रों ने चिड़ियाघर खोलने के आदेश जारी किए हैं। दून चिड़ियाघर के वन क्षेत्राधिकारी मोहन सिंह रावत ने बताया कि बुधवार से चिड़ियाघर को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। चिड़ियाघर आम पर्यटकों के लिए 23 मार्च से बंद था।

झाझरा स्थित आनंद वन को भी बुधवार से पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। आनंदवन के वन क्षेत्राधिकारी अखिलेश रावत ने बताया कि पर्यटक आनंद वन में भ्रमण कर जहां नक्षत्र वाटिका, सीता वाटिका, ट्री हट का लुत्फ उठा सकेंगे। वहीं युवाओं के लिए जिपलाइन, कमांडो नेट, बर्मा ब्रिज लैडर ब्रिज को भी खोल दिया गया है। आनंदवन भी पिछले दो माह से बंद था। 

।।अब अवकाश पूर्ण होने के बाद एक जुलाई से स्कूलों में दोबारा से ऑनलाइन पढ़ाई शुरू होगी।।

कोरोना की दूसरी लहर के संक्रमण के कम होने के बाद अब उत्तराखंड में सभी स्कूल एक जुलाई से खोल दिए जाएंगे। इस संबंध में आज बुधवार को आदेश जारी कर दिए गए हैं। हालांकि अभी ऑनलाइन पढ़ाई ही होगी।

स्कूलों में तीस जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया था
बुधवार को जारी आदेश में लिखा गया है कि कोरोना की दूसरी लहर की रोकथाम के लिए प्रदेश में संचालित शासकीय, अशासकीय, निजी, डे-बोर्डिंग स्कूलों में तीस जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया था। अब अवकाश पूर्ण होने के बाद एक जुलाई से स्कूलों में दोबारा से ऑनलाइन पढ़ाई शुरू होगी।

।। सरकारी स्कूलों में इन दिनों गर्मियों की छुट्टियां चल रही हैं। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक 30 जून को गर्मियों की खत्म हो जाएंगी। इसके बाद शिक्षकों को स्कूल बुलाकर ऑनलाइन पढ़ाई शुरू की जा सकती है।।

सरकारी स्कूलों में इन दिनों गर्मियों की छुट्टियां चल रही हैं। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक 30 जून को गर्मियों की छुट्टियां खत्म हो जाएंगी। इसके बाद शिक्षकों को स्कूल बुलाकर ऑनलाइन पढ़ाई शुरू की जा सकती है।

विभागीय मंत्री की ओर से भी इस संबंध में एक जुलाई से ऑनलाइन पढ़ाई का निर्देश दिया गया है। हालांकि, अभी छात्र-छात्राओं को स्कूल नहीं बुलाया जाएगा। कोविड की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए विभाग की ओर से अभी बच्चों को स्कूल न बुलाए जाने का निर्णय लिया गया है।

शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम के मुताबिक छात्र-छात्राओं को अभी स्कूल बुलाया जाना संभव नहीं है। विभाग की ओर से भी इस संबंध में अभी कोई तैयारी नहीं है। शिक्षकों को कब से स्कूल बुलाया जाए इस पर निर्णय लिया जाना है। शिक्षा सचिव ने कहा कि छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल खुलने के संबंध में शिक्षा मंत्री और मुख्यमंत्री के स्तर से निर्णय लिया जाना है। 

बोर्ड रिजल्ट के संबंध में आज जारी होगा शासनादेश 
शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम के मुताबिक उत्तराखंड बोर्ड का 10वीं और 12वीं का रिजल्ट तैयार किए जाने का फार्मूला तय हो चुका है। औपचारिक रूप से इस पर सहमति बन चुकी है। सोमवार को इस संबंध में शासनादेश जारी किया जाएगा।

29 जून 2021

।।भाजपा छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में लौटने के बावजूद मुकुल रॉय बंगाल विधानसभा में विरोधी दल की सीट पर ही बैठेंगे।।

भाजपा छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में लौटने के बावजूद मुकुल रॉय बंगाल विधानसभा में विरोधी दल की सीट पर ही बैठेंगे। उन्होंने भाजपा छोड़ने के बाद भी अपनी सीट बदलने के लिए अब तक कोई आवेदन नहीं किया है, जिसके फलस्वरूप उन्हें विरोधी दल की सीट ही आवंटित की गई है। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि दलविरोधी कानून से बचने के लिए मुकुल ने यह रणनीति अपनाई है।

गौरतलब है कि मुकुल पहली बार विधायक के तौर पर निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने कृष्णानगर उत्तर सीट से भाजपा के टिकट पर तृणमूल कांग्रेस की प्रत्याशी व बांग्ला फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री कौशानी मुखर्जी को भारी मतों के अंतर से मात दी थी। मुकुल पहली बार विधायक बने हैं इसलिए विधानसभा के आसन्न अधिवेशन में उनकी सीट को लेकर पहले ही चर्चा शुरू हो गई थी। बाद में वे तृणमूल में लौट गए। इसके बाद कौतूहल और बढ़ गया।

मुकुल को विरोधी दल की सीट आवंटित करने के पीछे एक और महत्वपूर्ण कारण यह है कि वे भाजपा की मर्जी और समर्थन के बिना ही विधानसभा की पब्लिक अकाउंट्स कमेटी (पीएसी) के सदस्य बने हैं। सबकुछ तृणमूल कांग्रेस की योजना के मुताबिक रहा तो वे पीएसी के चेयरमैन भी बन सकते हैं, ठीक उसी तरह जैसे सुब्रत मुखर्जी कांग्रेस विधायक रहते हुए भी तृणमूल द्वारा चालित कोलकाता नगर निगम के कभी मेयर बने थे। बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी मुकुल की विधायक की सदस्यता खारिज करने के लिए आवेदन कर चुके हैं, हालांकि इसपर अंतिम निर्णय विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी लेंगे। 

।। प्रदेश में लागू कोविड कर्फ्यू को कुछ और रियायत के साथ एक सप्ताह आगे बढ़ाया जा सकता है।।

प्रदेश में लागू कोविड कर्फ्यू को कुछ और रियायत के साथ एक सप्ताह आगे बढ़ाया जा सकता है। कर्फ्यू के दौरान बाजार खुलने का समय सुबह छह से शाम सात बजे तक करने पर विचार किया जा रहा है। सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने इसके संकेत दिए। उन्होंने कहा कि सरकार सभी पहलुओं पर विचार कर रही है और रविवार तक कोविड कर्फ्यू के संबंध में फैसला ले लिया जाएगा।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश में लागू कोविड कर्फ्यू की अवधि 29 जून की सुबह छह बजे खत्म हो रही है। वर्तमान में शनिवार व रविवार को छोड़कर प्रदेश में हफ्ते में पांच दिन सुबह आठ से शाम पांच बजे तक बाजार खुल रहे हैं। इस बीच राज्यभर में कोरोना संक्रमण के मामलों में आई कमी को देखते हुए बाजार खुलने का समय बढ़ाकर सुबह छह से शाम सात बजे तक करने मांग भी उठ रही है।

यह ठीक है कि कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर ने भी सरकार की पेशानी पर बल डाले हुए हैं। इसे देखते हुए सरकार फिलहाल कोविड कर्फ्यू की अवधि को एक हफ्ते आगे बढ़ा सकती है। इस दौरान बाजार खुलने का समय बढ़ाया जा सकता है, लेकिन शाम सात से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू के कड़ाई से अनुपालन को सख्त कदम उठाए जा सकते हैं। अलबत्ता, सिनेमाहाल, शापिंग माल, जिम, खेल संस्थान, स्टेडियम, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, आडिटोरियम और इनसे संबंधित गतिविधियों को फिलहाल बंद ही रखा जा सकता है।

बुधि का महत्व ।। कहानी ।।

एक बुद्धिमान राजा था। उसका काफी बड़ा साम्राज्य था। उसके राज्य में प्रजा हर तरह से खुशहाल थी। राजा को अपने उत्तराधिकारी की तलाश थी।

उसके तीन बेटे थे। राजा इस पुरानी परंपरा को नहीं निभाना चाहता था कि सबसे बड़े बेटे को ही गद्दी पर बिठाया जाए। वह सबसे बुद्धिमान और काबिल बेटे को सत्ता सौंपना चाहता था।

इसलिए राजा ने उत्तराधिकारी के लिए तीनों की परीक्षा लेने का फैसला किया।

राजा ने तीनों बेटों को अलग-अलग दिशाओं में भेजा। उसने हर बेटे को सोने का एक-एक सिक्का देते हुए कहा, कि वे इसे ऐसी चीज खरीदें, जो पुराने महल को भर दे।

पहले बेटे ने सोचा कि पिता तो सठिया चुके हैं। इस थोड़े से पैसे से इस महल को किसी चीज से कैसे भरा जा सकता है। इसलिए वह एक मयखाने में गया, शराब पी और सारा पैसा खर्च डाला।

राजा के दूसरे बेटे ने इससे भी आगे सोचा। वह इस नतीजे पर पहुंचा कि शहर में सबसे सस्ता तो कूड़ा कचरा ही है। इसलिए उसने महल को कचरे से भर दिया।

तीसरे बेटे ने दो दिन तक इस पर चिंतन मनन किया  कि महल को सिर्फ एक सिक्के से कैसे भरा जा सकता है। वह वाकई कुछ ऐसा करना चाहता था, जिससे पिता की उम्मीद पूरी होती हो।

उसनें मोमबत्तियां और लोबान की बतियां खरीदी और फिर पूरे महल को रोशनी और सुगंध से भर दिया। इस तीसरे बेटे की बुद्धिमानी से खुश होकर राजा ने उसे अपना उत्तराधिकारी बनाया।

सीटेट 2021 जून का नोटिफिकेशन अब जुलाई के पहले सप्ताह में जारी किया  जा सकता है.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी  एजुकेशन (CBSE) द्वारा सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट (CTET) के लिए नोटिफिकेशन जून में जारी किया जाना था. लेकिन अभी तक नोटिफिकेशन नहीं आ सका है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सीटेट 2021 जून का नोटिफिकेशन अब जुलाई के पहले सप्ताह में जारी किया  जा सकता है.

जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग में सरहद पर अपना फर्ज निभाते हुए, 11वीं गढ़वाल राइफल के, मनदीप सिंह नेगी ने अपनी शहादत दी।

जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग में सरहद पर अपना फर्ज निभाते हुए, 11वीं गढ़वाल राइफल के, मनदीप सिंह नेगी ने अपनी शहादत दी।

जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग में सरहद पर अपना फर्ज निभाते हुए, 11वीं गढ़वाल राइफल के, मनदीप सिंह नेगी ने अपनी शहादत दी।

चौबट्टाखाल तहसील के सकनोली गांव, पौड़ी गढ़वाल का रहने वाला मनदीप, पुत्र सत्यपाल सिंह, सिर्फ 23 साल का था।

Bn

बिना मास्क के बैंक में घुसने पर गार्ड ने मारी गोली..

बिना मास्क बैंक में प्रवेश करने पर रेलवे कर्मचारी को बैंक के सुरक्षाकर्मी ने मारी गोली। जंक्शन रोड पर बैंक ऑफ बड़ौदा की घटना। हिरासत में आरोपी गार्ड। घायल को जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती

।। विधानसभा चुनाव से पहले उत्तराखंड सरकार रोजगार, पर्यटन, स्वास्थ्य और कृषि-बागवानी पर विशेष फोकस ।।

विधानसभा चुनाव से पहले उत्तराखंड सरकार रोजगार, पर्यटन, स्वास्थ्य और कृषि-बागवानी पर विशेष फोकस करने जा रही है। प्रदेश में सरकारी विभागों के सभी रिक्त पदों पर एक साथ भर्ती प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। महकमों से खाली पदों का ब्योरा मांग लिया गया है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने हिन्दुस्तान से बातचीत में कहा कि करीब एक सप्ताह में रिक्तियों की कुल संख्या का पता चल जाएगा और उसके बाद सभी पदों पर चयन के लिए प्रक्रिया प्रारंभ हो जाएगी। उन्होंने दावा किया कि अगले विधानसभा चुनाव से पहले कुछ विभागों में नियुक्ति पत्र भी जारी हो जाएंगे।

लोकप्रिय उड़िया सिंगर तपू मिश्रा का 36 साल की उम्र में निधन, सीएम नवीन पटनायक ने जताया शोक

लोकप्रिय उड़िया सिंगर तपू मिश्रा का 36 साल की उम्र में निधन, सीएम नवीन पटनायक ने जताया शोक

।। पर्यटन राज्य उत्तराखंड के दरवाजे अब भी पर्यटकों और श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से नहीं खुले।।

कोरोना संक्रमण की दर कम होने के साथ दिल्ली में कुतुब मीनार तो उत्तर प्रदेश में ताजमहल सैलानियों के खोल दिए गए। लेकिन पर्यटन राज्य उत्तराखंड के दरवाजे अब भी पर्यटकों और श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से नहीं खुले हैं। देवभूमि में आने के लिए अब भी कोविड कर्फ्यू के बंधन हैं।

सप्ताहांत कर्फ्यू, आरटीपीसीआर जांच की अनिवार्यता और मशहूर टूरिस्ट प्वाइंट्स बंद होने से पर्यटन कारोबार को भारी नुकसान पहुंच रहा है। राज्य में पर्यटन से जुड़े छोटे कारोबारियों के तो रोटी के लाले पड़े हैं। बड़े कारोबारियों की हालत भी पतली है। ऐसे में मांग लगातार बढ़ रही है कि पूरे प्रदेश के पर्यटन स्थल पड़ोसी राज्य हिमाचल और उत्तर प्रदेश की तर्ज पर खोले जाएं

लाहौर में आतंकी हाफिज सईद के घर के पास बड़ा धमाका, दो की मौत, 15 जख्मी

लाहौर में आतंकी हाफिज सईद के घर के पास बड़ा धमाका, दो की मौत, 15 जख्मी
पाकिस्तान के लाहौर के जौहर टाउन इलाके में एक घर में धमाका हुआ.

।। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा धन सिंह रावत ने कहा कि 21 जून से सभी विश्वविद्यालयों एवं डिग्री कालेजों में पढ़ाई शुरू की जाएगी।।

प्रदेश में सभी सरकारी और निजी विश्वविद्यालय एवं डिग्री कालेजों में 21 जून से खुलेंगे। कालेजों में आनलाइन और आफलाइन पढ़ाई प्रारंभ होगी। सरकार ने 19 जून तक ग्रीष्मावकाश को आगे जारी नहीं रखने का निर्णय किया है। प्रदेश में तकरीबन डेढ़ माह से सभी विश्वविद्यालय एवं डिग्री कालेज ग्रीष्मावकाश के चलते बंद हैं। कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप बढ़ने पर सरकार ने बीती सात मई को आदेश जारी कर 12 जून तक विश्वविद्यालयों एवं डिग्री कालेजों के लिए ग्रीष्मावकाश घोषित कर दिया था। इसके बाद इस अवकाश को शनिवार तक बढ़ाया गया था। उच्च शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा धन सिंह रावत ने कहा कि 21 जून से सभी विश्वविद्यालयों एवं डिग्री कालेजों में पढ़ाई शुरू की जाएगी।

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय एवं कालेज खोले जाएंगे, लेकिन अभी सिर्फ शिक्षकों को ही बुलाया गया है। छात्र-छात्राओं को पढ़ाई का नुकसान न उठाना पड़े, इसके लिए अभी आनलाइन पढ़ाई शुरू की जाएगी। हालांकि कोरोना संक्रमण की स्थिति सुधरने के साथ ही आफलाइन पढ़ाई प्रारंभ करने के लिए भी तैयारी करने को कहा गया है। अगले माह यानी एक जुलाई से आफलाइन पढ़ाई विधिवत शुरू करने संकेत उन्होंने दिए।

।। महाकपि का बलिदान ।। कहानी

महाकपि का बलिदान

हिमालय के फूल अपनी विशिष्टताओं के लिए सर्वविदित हैं। दुर्भाग्यवश उनकी अनेक प्रजातियाँ विलुप्त होती जा रही हैं। कुछ तो केवल किस्से- कहानियों तक ही सिमट कर रह गयी हैं। यह कहानी उस समय की है, जब हिमालय का एक अनूठा पेड़ अपने फलीय वैशिष्ट्य के साथ एक निर्जन पहाड़ी नदी के तीर पर स्थित था। उसके फूल थाईलैंड के कुरियन से भी बड़े, चेरी से भी अधिक रसीले और आम से भी अधिक मीठे होते थे। उनकी आकृति और सुगंध भी मन को मोह लेने वाली थी।

उस पेड़ पर वानरों का एक झुण्ड रहता था, जो बड़ी ही स्वच्छंदता के साथ उन फूलों का रसास्वादन व उपभोग करता था। उन वानरों का एक राजा भी था जो अन्य बन्दरों की तुलना कई गुणा ज्यादा बड़ा, बलवान्, गुणवान्, प्रज्ञावान् और शीलवान् था, इसलिए वह महाकपि के नाम से जाना जाता था। अपनी दूर-दृष्टि उसने समस्त वानरों को सचेत कर रखा था कि उस वृक्ष का कोई भी फल उन टहनियों पर न छोड़ा जाए जिनके नीचे नदी बहती हो। उसके अनुगामी वानरों ने भी उसकी बातों को पूरा महत्तव दिया क्योंकि अगर कोई फल नदी में गिर कर और बहकर मनुष्य को प्राप्त होता तो उसका परिणाम वानरों के लिए अत्यंत भयंकर होता।

एक दिन दुर्भाग्यवश उस पेड़ का एक फल पत्तों के बीचों-बीच पक कर टहनी से टूट, बहती हुई उस नदी की धारा में प्रवाहित हो गया।

उन्हीं दिनों उस देश का राजा अपनी औरतों दास-दासीयों तथा के साथ उसी नदी की तीर पर विहार कर रहा था। वह प्रवाहित फल आकर वहीं रुक गया। उस फल की सुगन्ध से राजा की औरतें सम्मोहित होकर आँखें बंद कर आनन्दमग्न हो गयीं। राजा भी उस सुगन्ध से आनन्दित हो उठा। शीघ्र ही उसने अपने आदमी उस सुगन्ध के स्रोत के पीछे दौड़ाये। राजा के आदमी तत्काल उस फल को नदी के तीर पर प्राप्त कर पल भर में राजा के सम्मुख ले आए। फल का परीक्षण कराया गया तो पता चला कि वह एक विषहीन फल था। राजा ने जब उस फल का रसास्वादन किया तो उसके हृदय में वैसे फलों तथा उसके वृक्ष को प्राप्त करने की तीव्र लालसा जगी। क्षण भर में सिपाहियों ने वैसे फलों पेड़ को भी ढूँढ लिया। किन्तु वानरों की उपस्थिति उन्हें वहाँ रास नहीं आयी। तत्काल उन्होंने तीरों से वानरों को मारना प्रारम्भ क